हम भाजपा वाले हैं, हम आतंकियों के साथ ईलू-ईलू नहीं कर सकते हैं: अमित शाह

केन्द्रीय मंत्री एवं गाजीपुर लोकसभा सीट से पुन: भाजपा प्रत्याशी बनाए गए मनोज सिन्हा के समर्थन में एक चुनावी जनसभा में शाह ने कहा, ‘ये महामिलावटी लोग देश की बात करते हैं….अखिलेश, मायावती और राहुल गांधी देश को सुरक्षित नहीं रख सकते।’ उन्होंने कहा, ‘हम भाजपा वाले हैं। हम आतंकियों के साथ ईलू-ईलू नहीं कर सकते हैं।’

गाजीपुर (उप्र): भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सपा, बसपा और कांग्रेस के शीर्ष नेताओं पर निशाना साधते हुए गुरूवार को कहा कि अखिलेश यादव, मायावती और राहुल गांधी देश को सुरक्षित नहीं रख सकते।

शाह ने कहा कि भाजपा के लोग आतंकवादियों के साथ ‘ईलू-ईलू’ नहीं कर सकते हैं।

केन्द्रीय मंत्री एवं गाजीपुर लोकसभा सीट से पुन: भाजपा प्रत्याशी बनाए गए मनोज सिन्हा के समर्थन में एक चुनावी जनसभा में शाह ने कहा, ‘ये महामिलावटी लोग देश की बात करते हैं….अखिलेश, मायावती और राहुल गांधी देश को सुरक्षित नहीं रख सकते।’ उन्होंने कहा, ‘हम भाजपा वाले हैं। हम आतंकियों के साथ ईलू-ईलू नहीं कर सकते हैं।’ शाह बोले, ‘हम देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ नहीं कर सकते हैं। उधर (पाकिस्तान) से गोली आएगी तो इधर (भारत) से गोला जाएगा और ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाएगा।’

उन्होंने कहा, ‘राहुल गांधी और उनकी पार्टी टुकड़े-टुकड़े गैंग वालों के साथ हैं और देश को तोड़ने की चाहत रखते हैं।’ शाह ने कहा, ‘आतंकवादी पाकिस्तान के मरे लेकिन बुआ (मायावती), भतीजे (अखिलेश) और राहुल बाबा के ऑफिस में मातम पसर गया।’ उन्होंने सवाल किया, ‘मुझे पता नहीं चलता कि इन्हें इतना दुःख क्यों हुआ? इनके चेहरे क्यों लटक गए? वो आतंकी इनके चचेरे-ममेरे भाई लगते थे क्या?’ भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी अपने घोषणा-पत्र में राजद्रोह की धारा हटाने की बात कर रहे हैं ताकि ‘‘भारत तेरे टुकड़े होंगे’’ का कथित नारा लगाने वालों को जेल न हो सके।

ये भी देखें: जौनपुर में बोले सीएम योगी: कानून को हाथ में लेने वालों की खैर नहीं

शाह ने कहा कि पंडित दीन दयाल उपाध्याय ने कहा था कि जिस दिन भाजपा गाजीपुर जीत जाएगी, उस दिन पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी।

उन्होंने कहा कि देश भर में चाहे पूरब हो, पश्चिम हो, दक्षिण हो या उत्तर हो, हर तरफ लोग कह रहे हैं कि एक बार फिर से मोदी ही प्रधानमंत्री बनेंगे।

शाह ने कहा कि कांग्रेस की सरकार लगातार राज करती रही, लेकिन पूर्वांचल का विकास नहीं हुआ। मगर आज मोदी सरकार में पूर्वांचल विकास के रास्ते पर दौड़ चला है। आज गाजीपुर जैसे छोटे शहर के अंदर रेल सेवा, हवाई सेवा, मेडिकल कॉलेज की स्वीकृति हो चुकी है। हर तरफ विकास हो रहा है।

पूर्व की संप्रग सरकार पर तंज कसते हुए शाह ने कहा कि देश में 10 साल तक ‘मौनी बाबा’ की सरकार थी। पाकिस्तान से कोई भी आता था और हमारे भारतीय जवान का सिर काट कर ले जाता था लेकिन सरकार कुछ नहीं कर पाती थी।

उन्होंने कहा, ‘अब ऐसा नहीं हो रहा। उरी पर आतंकी हमला हुआ लेकिन मोदी सरकार ने एयर स्ट्राइक और सर्जिकल स्ट्राइक कर शहीदों की 13वीं के दिन हमारे जवानों ने पाकिस्तान के घर में घुसकर बदला लिया।’ शाह ने कहा कि ये लोग कश्मीर को हिन्दुस्तान से अलग करना चाहते हैं। उमर अब्दुल्ला के बयान पर राहुल गांधी कुछ नहीं बोलते हैं। उन्हें लगता है कि अगर बोलेंगे तो वोट बैंक चला जाएगा।

उन्होंने कहा कि जब तक भाजपा का एक भी कार्यकर्ता जिंदा है, कश्मीर को भारत से कोई अलग नहीं कर सकता। कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है।

बाद में उन्नाव में भाजपा उम्मीदवार साक्षी महाराज के समर्थन में जनसभा करते हुए शाह ने बसपा पर निशाना साधते हुए कहा कि 2017 में आप ने यूपी में भाजपा की सरकार बनवाई, यहां पहले सपा-बसपा के गुंडे पुलिस वालों तक को परेशान करते थे। योगी जी ने दो साल के अंदर गुंडों को उलटा लटका कर सीधा करने का काम किया है।

ये भी देखें : केन्द्र में मोदी- शाह की जोड़ी सत्ता में आती है तो सिर्फ राहुल जिम्मेदार होंगे : केजरीवाल

योगीराज आने के बाद भू माफियाओं को जेल के पीछे डाला है। अब अपराधी एनकाउंटर ना करने का निवेदन करते हैं। उन्होंने कहा सपा-बसपा की सरकारें सरकारी गेहूं, धान नहीं खरीदती थी, योगी सरकार ने किसानों की उपज को खरीदकर किसानों को फायदा पहुंचाया है।

बसपा पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि बहन मायावती ने दलितों के नाम पर टिकट बेच कर अपने बैंक अकाउंट को तगड़ा करने का काम किया है। सपा-बसपा ने 20 साल यूपी में शासन किया लेकिन क्या सपा-बसपा यूपी का विकास कर सकते हैं, या सिर्फ नरेंद्र मोदी की सरकार कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि जो एक दूसरे की शक्ल तक नहीं देखते थे वह हमसफ़र एक-दूसरे के साथ हैं, यह नरेंद्र मोदी के सरकार की वजह से साथ हैं।

उन्होंने यूपी की योगी सरकार की कुम्भ को लेकर सराहना की और कहा कि इतना भव्य कुम्भ कभी नहीं हुआ। साथ ही कुम्भ में प्रधानमंत्री द्वारा दलितों के पैर पखारने को लेकर कहा कि प्रधानमंत्री जी ने समरसता बढ़ाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि एक राहुल बाबा के एक दोस्त हैं उमर अब्दुल्ला, जो कश्मीर के लिए अलग प्रधानमंत्री की बात करते हैं, उन्हें नहीं मालूम कि अभी तो मोदी जी की सरकार है, अगर कभी हम विपक्ष में भी आए तो भी देश से कश्मीर को कभी अलग नहीं होने देंगे।

(भाषा)

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App