RIP: अलविदा कह गए एक्टर ओम पुरी, दिल का दौरा पड़ने से हुआ निधन


मुंबई:
पद्मश्री पुरस्कार विजेता और समानांतर सिनेमा के नायक ओम पुरी अब हमारे बीच नहीं रहे। शुक्रवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया। वे 66 साल के थे। वे हिन्दी फिल्मों के एक प्रसिद्ध अभिनेता थे। उन्होंने ब्रिटिश और अमेरिकी सिनेमा में भी अपना योगदान दिया था।
आगे पढ़ें ओमपुरी के बारे में….

उनका जन्म 18अक्टूबर 1950 में हरियाणा के अम्बाला नगर में हुआ। उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने ननिहाल पंजाब के पटियाला से पूरी की। 1976 में पुणे फिल्म संस्थान से प्रशिक्षण लेने के बाद ओमपुरी ने लगभग डेढ़ साल तक एक स्टूडियो में एक्टिंग की शिक्षा दी। बाद में ओमपुरी ने अपने निजी थिएटर ग्रुप  मजमा  की स्थापना की।

आगे पढ़ें ओमपुरी के बारे में….



फिल्मी करियर
ओम पुरी ने अपने फिल्मी सफर की शुरुआत मराठी नाटक पर आधारित फिल्म ‘घासीराम कोतवाल’ से की थी। साल 1980 में रिलीज फिल्म आक्रोश ओम पुरी के सिने करियर की पहली हिट फिल्म साबित हुई। ओम पुरी ने अपनी हिंदी सिनेमा करियर में कई सफल फिल्मों में अपने बेहतरीन अभिनय का परिचय दिया है।

आगे पढ़ें ओमपुरी के बारे में….

बिना किसी फिल्मी परिवार के होने के बाद भी हिंदी सिनेमा में  उन्होंने अपनी  जगह बनाई। इसके लिए उन्हें संघर्ष को दौर से भी गुजरना पड़ा था। उन्हें हिंदी सिनेमा में अपनी बेहतरीन अभिनय के चलते कई पुरस्कारों से भी नवाजा गया है। ओमपुरी ने नंदिता पुरी से शादी की है जिन्होंने उनकी आत्मकथा भी लिखी है।