Top

नॉन बेलेबल वारंट मिलने के बाद कोर्ट पहुंचे संजय दत्त, मिली राहत

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 17 April 2017 1:01 PM GMT

नॉन बेलेबल वारंट मिलने के बाद कोर्ट पहुंचे संजय दत्त, मिली राहत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई : फिल्म स्टार संजय दत्त चेक बाउंस मामले में दो दिन पहले जारी हुए गिरफ्तारी वारंट पर कोर्ट में हाजिर हुए। इसके बाद कोर्ट ने वारंट रद्द कर दिया। संजय अंधेरी कोर्ट के मजिस्ट्रेट सी.वी. पाटिल के सामने अपने वकीलों के साथ पहुचें और अपना पक्ष रखा।

ये भी देखें :28 साल पुराने ट्रिपल मर्डर केस में पूर्व RJD सांसद शहाबुद्दीन को कोर्ट ने किया बरी

गौर्तालाबा है कि वर्ष 2013 में फिल्म निर्माता शकील नूरानी ने संजय के विरुद्ध चेक बाउंस का केस दर्ज कराया था। नूरानी का आरोप है कि संजय ने उनकी फिल्म ‘जान की बाजी’ में काम करने के लिए पैसे लिए थे लेकिन उन्होंने काम नहीं किया। इसके बाद जब मैंने पैसे वापस मांगे तो गैगस्टर्स से धमकी मिली। मुझे जो चेक दिया गया वो भी पैसे न होने के चलते बाउंस हो गया आखिर में मैंने कोर्ट की शरण ली।

7 फरवरी को संजय को कोर्ट में पेश होना था लेकिन वो कोर्ट में पेश नहीं हुए, जिसके बाद 15 अप्रैल को उनके खिलाफ जमानती वारंट जारी किया गया।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story