Top

5G Case: HC के फैसले के बाद जूही चावला हुईं ट्रोल, सोशल मोडिया पर मीम्स और जोक्स की बाढ़

जूही चावला ने दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर करते हुए देश में 5G वायरलेस नेटवर्क को सेहत के लिए हानिकारक बताया था। लेकिन हाई कोर्ट ने उनकी याचिका को खारिज कर दिया।

Network

NetworkNewstrack NetworkVidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 5 Jun 2021 2:13 PM GMT

Juhi Chawla, while filing a petition in the Delhi High Court, had called the 5G wireless network in the country injurious to health.
X

 जूही चावला( फोटो-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: दिल्ली हाई कोर्ट ने बॉलीवुड एक्ट्रेस जूही चावला की 5G वायरलेस नेटवर्क लगाने के खिलाफ की याचिका को 4 जून को खारिज कर दिया। जूही चावला ने 5जी वायरलेस टेस्टिंग पर रोक लगाने की मांग की थी। इसके साथ ही कोर्ट ने जूही चावला पर 20 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है। इस पर कोर्ट ने कहा कि जूही चावला ने याचिका दायर करके कानून का गलत इस्तेमाल किया है।

इस मामले को लेकर सोशल मीडिया में लोग तरह-तरह की कमेंट कर रहे हैं मेम्स बना रहे हैं। दिल्ली हाई कोर्ट के फैसले के बाद जूही चावला जमकर ट्रोल हो रही हैं।

देखे सोशल मीडिया पर वायरस हो रहे मेम्स



एक्ट्रेस जूही चावला ने दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर करते हुए देश में 5G वायरलेस नेटवर्क को सेहत के लिए हानिकारक बताया था। लेकिन हाई कोर्ट ने उनकी याचिका को खारिज कर दिया।

इसके साथ ही इसे पब्लिसिटी स्टंट करार दिया। ऐसे में अब इसके बाद अब कई सारे लोग जूही के पक्ष में नजर आए हैं और हाई कोर्ट के जवाब से संतुष्ट नहीं हैं। बता दें, इस पर एक्ट्रेस पूजा बेदी ने भी प्रतिक्रिया जाहिर की है।

दरअसल 5जी टेस्टिंग मामले में हाई कोर्ट द्वारा जूही चावला को दिए गए जवाब से कबीर बेदी की बेटी पूजा बेदी संतुष्ट नहीं हैं। जिसके चलते उन्होंने ट्विटर पर एक पोल के थ्रू लोगों की राय जाननी चाही है।

जिसमें उन्होंने लोगों से पूछा है कि क्या जूही चावला को हाई कोर्ट की तरफ से जो जवाब मिला है वो उचित है या अनुचित है. दरअसल हाई कोर्ट ने जूही चावला की शिकायत को पब्लिसिटी स्टंट करार दिया था।

इस बारे में पूजा बेदी ने ट्वीट करते हुए कहा- जूही चावला पिछले कई सालों से सेलफोन के टावर्स के विरोध में नजर आई हैं. क्या आपको लगता है कि #DelhiHighCourt ने उनके केस को रद्द कर के उनपर पब्लिसिटी करने का जो आरोप लगाया है वो सही है? क्या कोई भी सेलिब्रिटी कुछ भी अगर करता है तो उसे पब्लिसिटी स्टंट से इतर हटकर नहीं देखा जा सकता?



Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story