जब मस्जिद से आई आवाज ने सब को डाल दिया हैरत में…टीकाकरण की अद्भुत पहल

रायबरेली: एक स्थानीय मस्जिद में अजान के बाद जो हुआ, उसे इतिहास में भले ही न दर्ज करें। लेकिन इसे दुर्लभ तो मान ही सकते हैं। क्योंकि जो कुछ भी लाउडस्पीकर पर कहा गया वो उम्मीद से परे था, कि कोई मस्जिद से ऐसी भी सलाह दे सकता है।

ये भी देखें : सिब्बल की दलील पर कोर्ट ने पूछा- हमें इस मामले पर सुनवाई नहीं करनी चाहिए?..बोले-नहीं

मिली जानकारी के मुताबिक एक मस्जिद में अजान के बाद घोषणा की गयी, कि दो साल की उम्र से कम के सभी बच्चों को प्रतिरक्षण टीके लगवा लें। ये भी बताया गया कि ये टीके कहाँ लग रहे हैं।

ये मामला चर्चा में इस लिए आया, क्योंकि आमतौर पर मुस्लिम बच्चों के टीकाकरण से दूर ही रहते हैं। पश्चिमी यूपी में कुछ समय पहले जब पल्स पोलियो टीका कार्यक्रम चलाया गया, तो कट्टरपंथी मुस्लिम इसके विरोध में सामने आ गए थे। वैसे हमारे देश में तो विरोध ही हुआ, पड़ोसी देश पाकिस्तान में तो इस कार्यक्रम में लगे कार्यकर्ताओं को जान से ही मार दिया गया।  

देश में एक दौर वो भी था, जब मुस्लिमों को पोलियो कार्यक्रम के प्रति जागरूक करने के लिए फिल्म स्टार आमिर खान से विज्ञापन करवाया गया।

फिलहाल जिस तरह इस मस्जिद के मुतावली ने धार्मिक बंधनों को तोड़ते हुए टीकाकरण की अपील की है, वो इस समुदाय के अंदर जागरूकता के एक नए युग की शुरूआत का सूत्रधार हो सकता है।  रायबरेली में डॉ जया देहलवी श्रीवास्तव की टीम टीकाकरण कार्यक्रम के बारे में झुग्गी-झोपड़ी में रहने वालों को जागरूक करने का काम कर रही हैं। जया ने newstrack.com से कहा ,  मैं मस्जिद से लोगों को इस बिंदु को समझाने और बच्चों के स्वास्थ्य लाभ के लिए सार्वजनिक घोषणा से सहमत होने के लिए बेहद आभारी हूं। ”

देखें वीडियो :

https://www.youtube.com/watch?v=rvope4ooE3o