Featured

जयपुर : महिलाएं आज हर क्षेत्र में  हैं। जमीन से लेकर आसमान में ही नहीं, अंतरिक्ष में भी उनके कदमों की छाप मौजूद है। जिस तरह से उनका कद बढ़ा है, तो अब वे अपने हक और उससे जुड़े कानूनों के बारे में भी जानना चाती हैं। घर से लेकर दफ्तर में एक महिला के …

जयपुर:हैदराबाद  के 27 वर्षीय एक व्यक्ति ने अपनी शादी का ‘अनोखा’ कार्ड छपवाया है। इस पर मेहमानों से आगामी लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी के लिए वोट करने की अपील की गई है। 21 फरवरी को होने वाले विवाह का आमंत्रण पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। मुकेश राव यांदे कट्टर मोदी समर्थक हैं।उन्होंने …

समाज की दशा देख द्रवित होने वाले समाज सुधारक पेरियार ने समाजिक व्यवस्था में बदलाव के लिए अपने जीवन में कदम कदम पर लड़ाई लड़ी। जीवन भर न्याय के लिए तत्कालीन व्यवस्था के खिलाफ आंदोलन करते रहें।समाज में चेतना के केंद्र बिंदु बने।जस्टिस पार्टी के अध्यक्ष बने,‘तमिलनाडु तमिलों के लिए’ का नारा दिया, असहयोग आंदोलन में कूदे और 94 वर्ष की एक लम्बी उमर गुजारने के बाद चिर निद्रा में सो गए।

भगवान शिव के प्रिय अति दुर्लभ पुष्प ब्रह्मकमल के अंकुर फूटे हैं।शिवालिक की पहाड़ी पर बसे रानीखेत के उच्च हिमालयी इलाके में इस पुष्प के बीज को वन अनुसंधान केंद्र कालिका (रानीखेत) के शोध अधिकारियों के सफल प्रयोग के बाद रोपा गया है। तीन से पांच हजार मीटर की ऊंचाई पर केदारनाथ, तुंगनाथ, वेदिनी बुग्याल आदि से एकत्र बीज पहले बदरीनाथ फिर 1800 मीटर की ऊंचाई पर कालिका रेंज में बोए गए।

गोरखपुर: जिले के औरंगाबाद गांव की टेराकोटा हस्तशिल्प का नाम आते ही उसकी एक से बढ़कर एक सुंदर कलाकृतियों की तरफ सबका ध्यान चला ही जाता है। इन्हें बनाने वाले कई कुम्हारों को इसी कला की वजह से सात समंदर पार जाने का मौका भी मिल चुका है। इनके हाथों का जादू अब हर किसी …

करवाचौथ पहली कहानी करवाचौथ प्राचीन काल से मनाया जाता रहा है। बहुत समय पहले की बात है, एक साहूकार के सात बेटे और उनकी एक बहन करवा थी। सभी सातों भाई अपनी बहन से बहुत प्यार करते थे। यहाँ तक कि वे पहले उसे खाना खिलाते और बाद में खुद खाते थे। एक बार उनकी …

नई दिल्ली: खेतों में रसायनों का छिड़काव करते समय अधिकतर किसान कोई सुरक्षात्मक तरीका नहीं अपनाते हैं। इस कारण कीटनाशकों में मौजूद जहरीले पदार्थों के संपर्क में आने के कारण उनके स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है और गंभीर मामलों में मौत तक हो जाती है। भारतीय वैज्ञानिकों ने अब एक ऐसा सुरक्षात्मक जैल तैयार …

प्रतापगढ़: जिले का ऐतिहासिक भरत मिलाप 130 वर्षों पुराना है। आज यहां भरत मिलाप है। श्री राम के आदर्शों में रची बसी यहां की मिटटी में राम कथा की खुशबू आती है। परंपरा के अनुसार प्रतिवर्ष प्रतापगढ़ मुख्यालय के ऐतिहासिक घंटाघर पर राम और भरत मिलाप करते हैं। मिलन की इस वेला में नगर रोशनी …

जम्मू: भारत में सात लाख हेक्टेयर से अधिक भूमि पर रबड़ बागान हैं।पर, रबड़ की गिरती कीमतों, कम लाभ और श्रम की अत्यधिक लागत के चलते यह उद्योग बुरे दौर से गुजर रहा है। यही कारण है कि रबड़ बागानों के प्रबंधन और रणनीति में सुधार की आवश्यकतामहसूस की जा रही है। रबड़का पेड़, जिसका …

लखनऊ: राजधानी स्थित बड़े इमामबाड़े से 72 ताबूत का जुलूस शनिवार को निकाला गया। इस मौके पर बड़ी संख्‍या में धर्मगुरू और अन्‍य लोगों ने शिरकत की।