लंबे समय तक मास्क पहनना घातक, हो जाएं सतर्क नहीं तो इस बीमारी का खतरा

कोरोना संकट के इस काल में पूरी दुनिया में मास्क पहनने पर जोर दिया जा रहा है। जानकारों का कहना है कि मास्क पहनने से कोरोना वायरस के खतरे को काफी हद तक टाला जा सकता है मगर…

नई दिल्ली: कोरोना संकट के इस काल में पूरी दुनिया में मास्क पहनने पर जोर दिया जा रहा है। जानकारों का कहना है कि मास्क पहनने से कोरोना वायरस के खतरे को काफी हद तक टाला जा सकता है मगर लगातार कई घंटे तक मास्क पर पहनना भी घातक साबित हो सकता है। ऐसा करने से लोगों को सांस और हृदय संबंधी समस्या के साथ ही कई अन्य दिक्कतें भी हो रही हैं।

ये भी पढ़ें: PM मोदी का जनता के नाम पत्र, जानिए इस चिट्ठी की 11 बड़ी बातें

इस कारण पैदा हो रही हैं दिक्कतें

जानकारों का कहना है कि कोरोना वायरस का शिकार बनने से बचने के लिए मास्क पहनना ते जरूरी है, लेकिन इसके साथ ही हमें इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि इसे कई घंटे तक लगातार पहनना या एक्सरसाइज करते समय पहने रहना सेहत के लिए घातक साबित हो रहा है। इससे पैदा होने वाली बीमारी को चिकित्सा विज्ञान में हाइपरकेपनिया कहा जाता है। चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार मास्क पहनने के कारण किसी भी व्यक्ति द्वारा छोड़ी गई कार्बन डाइऑक्साइड दोबारा मुंह व नाक के जरिए फेफड़ों में पहुंच जाती है और इस कारण स्वास्थ्य के लिए दिक्कतें पैदा होती हैं।

सामने आ रहे हैं कई मामले

लंबे समय तक मास्क पहने रहने की वजह से सिर भारी होने, जी मिचलाने व सांस संबंधी दिक्कतों के कारण भी लोग परेशान हो रहे हैं। राजकीय दून मेडिकल अस्पताल के फिजिशियन डॉ.कुमार जी कौल के मुताबिक क्वारंटीन सेंटरों में इस तरह के तमाम मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे लोगों को मास्क का सही इस्तेमाल करने और ज्यादा जरूरी होने पर ही मास्क लगाने की सलाह दी जा रही है। उनका कहना है कि लोगों को भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचना चाहिए और घर में होने पर सामान्य स्थिति में मास्क लगाने से परहेज करना चाहिए। घर से बाहर निकलने पर ही इसका इस्तेमाल करना चाहिए।

 

ये भी पढ़ें: राशिफल 30 मई: इन 4 राशियों को नौकरी-व्यवसाय से मिलेगा लाभ, जानें बाकी का हाल

हो सकती हैं कई तरह की समस्याएं

चिकित्सा जगत के जानकारों का कहना है कि लगातार मास्क पहने रहने के कारण लोगों में हाइपरकेपनिया बीमारी के लक्षण दिख रहे हैं। इस बीमारी में कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं मसलन सांस लेने में दिक्कत होना, ब्लड प्रेशर लो होना, ह्रदय गति का बढ़ना, आंखों में धुंधलापन या कम दिखना, चक्कर आना, सिर भारी होना और बेहोश होना आदि।

इन बातों का ध्यान रखना जरूरी

इन समस्याओं से निजात पाने के लिए मास्क पहनने के मामले में भी कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। जानकारों का कहना है कि कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए मास्क पहनना तो जरूरी है मगर इसे लगातार कई घंटे तक पहनने से परहेज करना ही उचित होगा।

ये भी पढ़ें: ट्रेन का सफर करने से बचेंः रेलवे ने यात्रियों से की अपील, सुविधा के लिए शुरू की ये सेवा

घर में अकेले रहने पर मास्क पहनने से परहेज करना चाहिए। किसी भी इंसान को ऐसे समय में ही मास्क पहनना चाहिए जब वह कहीं बाहर जा रहा हो या जब किसी के नजदीकी संपर्क में आ रहा हो। एक और महत्वपूर्ण बात ध्यान में रखने वाली यह है कि मास्क पहनकर जॉगिंग या एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए क्योंकि ऐसा करने से स्वास्थ संबंधी दिक्कतें पैदा हो सकती हैं।

ये भी पढ़ें: ब्रिटिश इंजीनियरिंग का नायाब नमूना हैं ये चालीस कुएं, जानिए इनकी कहानी