WHO ने PM मोदी को कहा थैंक्यू- पूरी बात जानकर गर्व से चौड़ा हो जाएगा सीना

भारत ने पड़ोसी देश बांग्लादेश और नेपाल से दोस्ती निभाते हुए उन्हें कोविड से बचाव के लिए वैक्सीन की 20 लाख और 10 लाख खुराकें भेजीं। महामारी से निपटने के लिए दोनों मित्र देशों को वैक्सीन की ये खुराकें मुफ्त दी गई हैं।

Published by Aditya Mishra Published: January 24, 2021 | 2:12 pm
Who

WHO ने PM मोदी को कहा थैंक्यू- पूरी बात जानकर गर्व से चौड़ा हो जाएगा सीना (फोटो:सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के चीफ टेड्रोस अधनोम ग्रेबेसियस ने भारत की कोरोना वैक्सीन डिप्लोमेसी(वैक्सीन मैत्री) की तारीफ की है। उन्होंने नेपाल समेत कई अन्य पड़ोसी मुल्कों को वैक्सीन देने पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शुक्रिया बोला है।

ट्वीट करते हुए लिखा है-‘ग्लोबल कोविड-19 को लगातार समर्थन देने के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया। मिलकर काम करने, ज्ञान साझा करने से ही हम इस वायरस को रोक सकते हैं और जिंदगियां बचा सकते हैं।

Serum Institute Pune
कोरोना टीकाकरण (फोटो-सोशल मीडिया)

सावधान सभी लोग: 30 फीसदी ज्यादा डेडली, कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन

दुनिया के 92 देशों ने वैक्सीन के लिए भारत से किया सम्पर्क

रिपोर्ट्स के मुताबिक, दुनिया के 92 देशों ने मेड इन इंडिया वैक्सीन के लिए भारत से संपर्क साधा है। भारत में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान शुरू हुआ था लेकिन बिना देरी किए भारत ने अपने पड़ोसी मुल्कों को भी वैक्सीन की आपूर्ति की। दरअसल, भारत में इस्तेमाल हो रही वैक्सीन के साइड इफेक्ट लगभग न के बराबर है।

डोमिनिकन रिपब्लिक के प्रधानमंत्री रूजवेल्ट स्केरिट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कोरोना वैक्सीन भेजने का अनुरोध किया है। बोलीविया की सरकार ने 50 लाख डोज कोरोना वैक्सीन के लिए सीरम इंस्टीट्यूट के साथ करार किया है।

इस देश में कोरोना से मचा हाहाकार, मौत के मामले में टूटा रिकार्ड, कर्फ्यू लागू

covid vaccine
कोरोना वैक्सीन(फोटो:सोशल मीडिया)

इन देशों को मिल चुकी है भारत की वैक्सीन

भारत ने पड़ोसी देश बांग्लादेश और नेपाल से दोस्ती निभाते हुए उन्हें कोविड से बचाव के लिए वैक्सीन की 20 लाख और 10 लाख खुराकें भेजीं। महामारी से निपटने के लिए दोनों मित्र देशों को वैक्सीन की ये खुराकें मुफ्त दी गई हैं।

भारत जल्द ही म्यांमार और सेशेल्स को भी वैक्सीन की आपूर्ति करेगा। उम्मीद है कि म्यांमार के लिए शुक्रवार को कोविशील्ड की 15 लाख खुराक भेजी जाएंगी।

इससे पहले बुधवार को वैक्सीन की डेढ़ लाख खुराक भूटान को और एक लाख खुराक मालदीव को भेजी गई थीं। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ट्वीट कर कहा, नेपाल ने भारतीय वैक्सीन सबसे पहले पाई। हम पड़ोसियों की मदद सबसे पहले कर रहे हैं।

सावधान! ये लक्षण बताते हैं कि आप में है आयोडीन की कमी, इन बातों का रखें ध्यान

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App