India

बांग्लादेश के विदेश मंत्री डॉ. एके. अब्दुल मोमेन ने अपना भारत दौरा रद्द कर दिया है। इसके अलाना उन्होंने नागरिकता संशोधन बिल पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। इस पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने जवाब दिया है। इसके अलावा पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की टिप्पणी पर भी विदेश मंत्रालय ने दो टूक जवाब दिया है।

विदेशी फिल्म निर्माता जहां अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता संवर्ग के लिए अपनी फिल्मों की इंट्री करा सकते हैं, वही भारतीय फिल्म निर्माता अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय दोनों ही संवर्गों के लिए अपनी फिल्मों की एंट्री करा सकेंगे।

पुलिस बल की मौजूदगी में आयकर विभाग की टीम ने राज्यसभा सांसद के आवास के मुख्य दरवाजे को बंद कर अपनी जांच को आगे बढ़ाया। हालांकि आयकर विभाग की टीम के सदस्य फिलहाल जांच करने की बात कह रहे हैं। साथ ही राज्यसभा सांसद या उनके परिवार के सदस्यों के आने का इंतजार कर रहे हैं।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा एक महीने पहले राम जन्मभूमि मामले पर दिए फैसले के खिलाफ दाखिल पुनर्विचार याचिकाओं पर सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक बेंच का फैसला आ गया है। इस मामले में सभी पुनर्विचार याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है।

नागरिकता संशोधन बिल संसद से पास हो गया है। इस बिल का कानून बनने का रास्ता साफ हो गया है। लेकिन इस बिल को लेकर सड़क पर संग्राम जारी है। पूर्वोत्तर के कई राज्यों में बिल के खिलाफ जबरदस्त प्रदर्शन हो रहा है। इस प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया है।

अपनी दूसरी पारी में पीएम नरेन्द्र मोदी अपनी पहली पारी की अपेक्षा ज्यादा आक्रामक अंदाज में बैटिंग करते नजर आ रहे हैं। इस बार गृहमंत्री के रूप में उन्हें अमित शाह जैसा मजबूत साथी मिला है जो संसद में विपक्ष के हर वार का तीखे अंदाज में जवाब देकर उसकी बोलती बंद करने में सक्षम है।

NCP के अध्यक्ष व दिग्गज नेता शरद पवार का आज बर्थडे है। इनका पूरा नाम शरद गोविंदराव पवार है वो एक वरिष्ठ भारतीय राजनेता है।

नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर असम और पूर्वोत्तर के राज्यों में जमकर बवाल हो रहा है। राज्यसभा से भी बिल पास हो चुका है, लेकिन प्रदर्शनों का दौर जारी है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद ट्वीट कर असम की जनता से शांति बनाए रखने की अपील की।

पिछली सदी में समाज इस बात को लेकर बेहद आशान्वित था कि अगली सदी में महिलाएं पुरुषों के बराबर कदम से कदम मिलाकर चलेंगी। इसकी शुरुआत भी हुई।

नागरिकता संशोधन विधेयक, 2019 को संसद ने मंजूरी दे दी है। जिसके बाद इसे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पास हस्ताक्षर के लिए भेजा जाएगा। वहीं गुरुवार को विधेयक के विरोध में याचिका दाखिल की गई है। यह याचिका इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग ने दायर की है।