प्रणय रॉय के खिलाफ CBI छापे: कांग्रेस ने कहा- यह मीडिया की आजादी पर हमला

Published by aman Published: June 6, 2017 | 12:55 am
Modified: June 6, 2017 | 1:02 am
प्रणय रॉय के खिलाफ CBI छापे को कांग्रेस ने बताया बदले की कार्रवाई, कहा- यह मीडिया की आजादी पर हमला

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को समाचार चैनल एनडीटीवी के संस्थापक प्रणय रॉय के घर पर केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा की गई छापेमारी को बदले की कार्रवाई करार दिया है। इसे मीडिया की आजादी पर हमला बताया है।

कांग्रेस प्रवक्ता अजय माकन ने कहा, ‘यह समय बहुत महत्वपूर्ण है। दो दिन पहले ही समाचार चैनल पर गोमांस पर प्रतिबंध को लेकर चर्चा हुई थी, जिसमें भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रवक्ता संबित पात्रा ने एनडीटीवी की पत्रकार के साथ बदतमीजी की कोशिश की थी। इसके दो दिन बाद ही यह छापेमारी हुई है।’

ये भी पढ़ें …NDTV के संस्थापक प्रणय रॉय के घर CBI का छापा, धोखाधड़ी का मामला दर्ज

बदले की कार्रवाई नहीं, तो क्या है?
माकन ने सवालिया लहजे में कहा, ‘अगर यह बदले की कार्रवाई नहीं है तो क्या है?’ उन्होंने कहा, ‘हम सरकार को चेतावनी देना चाहते हैं और बताना चाहते हैं कि वे मीडिया की आवाज दबाने से बचें।’ माकन बोले, पीएम मोदी कभी-कभी मीडिया को बाजारू कहते रहे हैं। उनके एक मंत्री जनरल वीके सिंह कई बार मीडिया को ‘प्रस्टिट्यूट’ तक कह चुके हैं। वे इस तरह भय का माहौल बनाना चाहते हैं। यह मीडिया की आजादी पर हमला है और हम इसकी निंदा करते हैं।’

आगे की स्लाइड में पढ़ें पूरी खबर …

हमने तो कोई कार्रवाई नहीं की थी
कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, कि ‘कांग्रेस के नेतृत्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार में भी एनडीटीवी कांग्रेस और उसके नेताओं के खिलाफ बोलता रहा है, लेकिन हमारी सरकार ने समाचार चैनल के खिलाफ इस तरह की कोई कार्रवाई नहीं की।’

माल्या पर जांच क्यों नहीं
अजय माकन ने कहा, ‘देश के बैंकों से 9,000 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी कर विदेश भाग चुके विजय माल्या के खिलाफ कोई जांच नहीं चल रही है। सरकार उन्हें देश से भागने की इजाजत भी देती है।’