Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

CBSE ने स्कूलों से कहा- जनवरी से फीस ऑनलाइन या कार्ड पेमेंट के जरिए लें

aman

amanBy aman

Published on 13 Dec 2016 10:24 AM GMT

CBSE ने स्कूलों से कहा- जनवरी से फीस ऑनलाइन या कार्ड पेमेंट के जरिए लें
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने स्कूलों से कहा है कि जनवरी से छात्रों से ली जाने वाली फीस को ऑनलाइन या कार्ड से लिया जाए। सीबीएसई ने ये भी कहा कि वेतन भी बैंक ट्रांसफर के जरिए ही किए जाएं।

गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद आम आदमी के पास कैश की कमी हो गई है। केंद्र सरकार भी कैशलेश ट्रांजेक्शन दे रही है। इसी के तहत सीबीएसई ने ये फैसला लिया है। अब तक जहां स्कूलों में चेक के जरिए 60 फीसदी भुगतान होता था, वहीं यह पिछले महीने बढ़कर 80 फीसदी तक हो गया।

स्कूलों ने कैशलेस ट्रांजैक्शन शुरू

अगले शैक्षणिक सत्र में स्कूलों में कार्ड से भुगतान के लिए 'प्वाइंट ऑफ सेल' (पीओएस) मशीन लाने की तैयारी हो रही है। उल्लेखनीय है कि बेंगलुरु के ज्यादातर स्कूलों ने कैशलेस ट्रांजैक्शन शुरू कर दिया है। सीबीएसई से मान्यता प्राप्त एक स्कूल की को-ऑर्डिनेटर ने बताया कि 'हम कैश और चेक दोनों से भुगतान ले रहे हैं। लेकिन नोटबंदी के बाद हमने अभिभावकों से चेक या ऑनलाइन फीस जमा करने की कोशिश की है।'

फैसला व्यावहारिक रूप से सही नहीं

इस मुद्दे पर मैनेजमेंट ऑफ इंडिपेंडेंट सीबीएसई स्कूल्स एसोसिएशन (एमआईसीएसए) के सेक्रेटरी मंसूर अली खान के मुताबिक, यह एक अच्छा कदम है। इससे स्कूलों में भीड़ कम होगी। लेकिन ऑनलाइन पेमेंट को जनवरी 2017 से लागू करने के फैसले को व्यावहारिक रूप से सही नहीं कहा जा सकता। उन्होंने कहा, 'ग्रामीण इलाकों में कम बजट स्कूल होते हैं। यहां ज्यादातर कैश से भुगतान होता है। इसे कैशलेश ट्रांजैक्शन में बदलने में समय लगेगा।'

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story