Top

तेरे इंसान की हालत क्या हो गयी भगवान ! पिता ने 4 साल की बेटी को ही बना डाला शिकार

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 8 May 2017 1:25 PM GMT

तेरे इंसान की हालत क्या हो गयी भगवान ! पिता ने 4 साल की बेटी को ही बना डाला शिकार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

झाँसी : बुंदेलखंड की धरती उस समय शर्मसार हो गई जब एक पिता रिश्ते को कलंकित करते हुए अपनी ही बेटी के साथ हैवानियत पर उतर आया। झांसी रेलवे स्टेशन पर पिता ने अपनी चार साल की बेटी के साथ अश्लील हरकत करते देखा गया। वहां मौजूद यात्रियों ने कलयुगी पिता की पिटाई की और उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

ये भी देखें : ‘नेताजी’ के समर्थन में आईं छोटी बहू अपर्णा, कहा- अखिलेश भैया अब तो पूरा करें अपना वादा

पुलिस के अनुसार, रविवार रात झांसी रेलवे स्टेशन पर यात्री अपनी-अपनी ट्रेनों की प्रतीक्षा कर रहे थे। वहीं एक युवक जो रेलवे स्टेशन के सर्कुलेटिंग एरिया में मौजूद था, चार वर्षीय बच्ची के साथ अश्लील हरकत कर रहा था। युवक की इस हरकत पर वहां मौजूद कुछ यात्रियों की नजर पड़ी। यात्रियों ने उस युवक को रंगे हाथ पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई करते हुए, इसकी जानकारी पुलिस को दी।

मौके पर पहुंची जीआरपी उस बच्ची और पकड़े गए युवक को थाने ले आई। वहां आरोपी युवक से पूछताछ की गई। युवक ने अपना नाम टीकमगढ़ निवासी मनीराम बताया।

युवक ने जब कहा कि यह बच्ची उसकी बेटी है। यह सुनते ही थाने में मौजूद पुलिसकर्मी भी सन्न रह गए कि एक पिता अपनी ही बच्ची के साथ हैवानियत कैसे कर सकता है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story