×

हल्द्वानी में बाघों की गिनती डिजिटल तरीके से शुरू, 25 मार्च तक पूरा होगा काम

नेपाल की सीमा से सटे इलाकों तक बाघों की गिनती का काम शनिवार (24 फरवरी) से शुरू हो गया है। शनिवार से कैमरा ट्रैप में डाटा रिकॉर्ड होना शुरू हो गया है।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 24 Feb 2018 2:30 PM GMT

हल्द्वानी में बाघों की गिनती डिजिटल तरीके से शुरू, 25 मार्च तक पूरा होगा काम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

हल्द्वानी: नेपाल की सीमा से सटे इलाकों तक बाघों की गिनती का काम शनिवार (24 फरवरी) से शुरू हो गया है। शनिवार से कैमरा ट्रैप में डाटा रिकॉर्ड होना शुरू हो गया है।

पहले चरण में हलद्वानी, तराई पूर्वी और चम्पावत वन प्रभाग में बाघों की गिनती का कार्य हो रहा है। इनमें करीब 1200 कैमरा ट्रैप की सहायता से 150 से ज्यादा वन कर्मी 150 वर्ग किमी से अधिक क्षेत्रफल के जंगल में बाघों की गिनती का जिम्मा संभालेंगे।

बाघों की गिनती का कार्य राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण की देखरेख में हो रहा है। ये कार्य 25 मार्च तक पूरा होगा। बाघों की गणना सटीक हो इसलिए इस बार हर 2 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में 2 कैमरा ट्रैप लगाए गए हैं।

पूर्वी वन प्रभाग के डीएफओ के मुताबिक बाघों की गिनती डिजिटल तरीके से की जा रही है। इसके लिए पूरे स्टाफ को ट्रेनिंग दी गई है। हर चार वर्ष के अंतराल पर राष्ट्रीय स्तर पर बाघों की गिनती की जाती है। इससे पहले वर्ष 2014 में हुई गणना में उत्तराखंड में बाघों की संख्या में अच्छा इजाफा हुआ था। वन अधिकारियों का मानना है कि इस बार भी बाघों की संख्या उत्साह बढ़ाने वाली होगी।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story