Live: देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या हुई 2.46 लाख पार, तेजी से बढ़ रहा मौतों का आकंडा

सोमवार से धार्मिक स्थल, होटल, शॉपिंग मॉल और अन्य सार्वजनिक स्थल खुल जाएंगे। जिसे लेकर कई राज्य सरकारों ने अपने अपने प्रदेशों के लिए दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। सार्वजनिक स्थल पर कोरोना संक्रमण का खतरा रोकने में लिए ख़ास तैयारी भी की गयी है।

नई दिल्ली: अनलॉक 1 में मिली छूट के मुताबिक, सोमवार से धार्मिक स्थल, होटल, शॉपिंग मॉल और अन्य सार्वजनिक स्थल खुल जाएंगे। जिसे लेकर कई राज्य सरकारों ने अपने अपने प्रदेशों के लिए दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। सार्वजनिक स्थल पर कोरोना संक्रमण का खतरा रोकने में लिए ख़ास तैयारी भी की गयी है। हालाँकि राजस्थान सरकार ने मंदिर न खोलने का एलान किया है।

अनलॉक 1-भारत में कोरोना वायरस:

देश में अब कोरोना के कुल 237,287 मामले हो गए हैं। शनिवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, शुक्रवार को 9,887 नए संक्रमित मामले सामने आये। वहीं मृतकों की संख्या में 294 की बढोतरी हुई। अब देश में 1,15,942 एक्टिव केस, 1,14,072 डिस्चार्ज और 6642 मृतक हैं।

Live Update

 


दुनियाभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 4 लाख के पार

कोरोना वायरस की वजह से विश्व में चार लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 69 लाख लोग संक्रमित हैं। भारत 2,46,628 कोरोना केस के साथ विश्व का पांचवा सबसे प्रभावित देश बन गया है। भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2 लाख 46 हजार को पार कर चुकी है। हालांकि 1,19,293 मरीज उपचार के बाद ठीक होकर घर लौट चुके हैं। भारत में रविवार सुबह तक कोरोना वायरस के कारण 6,929 मरीजों ने दम तोड़ दिया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में 1,20,406 संक्रमित मरीजों का उपचार चल रहा है जबकि 1,19,293 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और एक मरीज देश से बाहर जा चुका है। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में 1,920,061 कोरोना मरीज, ब्राजील में 672,846 मरीज, रूस में 458,102 मरीज, ब्रिटेन में 286,294 मरीज हो गए हैं।

पश्चिम बंगाल में कोरोना मृतकों के शव देख सकेंगे परिजन

ममता सरकार ने नया आदेश जारी करते हुए कहा है कि अगर प्रदेश में किसी व्यक्ति की मौत कोरोना से हो जाती है तो उनके परिजन शव को आखिरी बार देख सकेंगे। अभी तक कोरोना मृतकों का अंतिम संस्कार मेडिकल टीम की निगरानी में होती थी। परिवार के लोगों को उसे देखने की इजाजत नहीं होती थी।

NIA हेडक्वार्टर में फिर मिला कोरोना केस

NIA के मुख्यालय में रविवार को एक और कोरोना केस सामने आया है। इससे पहले शनिवार को भी एक केस सामने आया था। यानी अब तक मुख्यालय से दो कोरोना पॉजिटिव केस आ चुके हैं। फिलहाल ऑफिस को सैनिटाइज किया जा रहा है। वहीं संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए दस लोगों को भी क्वारनटीन किया गया है। शनिवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) मुख्यालय में भी छह स्टाफ कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

जून के अंत तक दिल्ली में 15 हजार बेड की जरूरत

दिल्ली में अब सभी बॉर्डर खोल दिए जाएंगे। यानी कि अब दूसरे राज्यों के लोग बिना रोकटोक दिल्ली में एंट्री ले सकते हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डॉ महेश वर्मा कमेटी के रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा है कि जून के अंत तक दिल्लीवासियों के लिए अस्पताल में 15 हजार बेड की जरूरत हो सकती है। क्योंकि हाल के दिनों में तेजी से कोरोना के मामले बढ़े हैं। इसलिए अब से दिल्ली सरकार के अधीन आने वाले सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में सिर्फ दिल्लीवासियों का इलाज होगा। हालांकि केंद्र के अधीनस्थ आने वाले अस्पतालों में सभी मरीजों का इलाज हो सकेगा।

दिल्ली सरकार के अधीन अस्पतालों में सिर्फ दिल्लीवासियों का इलाज

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब दिल्ली सरकार के अधीन आने वाले सभी अस्पतालों में सिर्फ दिल्लीवालों का ही इलाज होगा। जबकि केंद्र सरकार अधीनस्थ अन्य अस्पतालों में सभी मरीजों का इलाज हो सकेगा। इसके साथ ही दिल्ली से सटे सभी बॉर्डर को सोमवार से खोल दिए जाएंगे। थोड़ी देर में मुख्यममंत्री केजरीवाल इस बात की घोषणा करेंगे।

धारावी में 10 नए कोरोना पाॅजिटिव

महाराष्ट्र के धारावी में 10 नए कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही धारावी में अब तक 1899 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 71 लोगों की मौत भी हो चुकी है। इसके साथ ही 939 लोगों का इलाज किया जा चुका है और 889 एक्टिव कोरोना मरीज है।

दिल्ली में बढ़ी कंटेनमेंट जोन की संख्या-

दिल्ली में कोरोना संक्रमितों के साथ ही कंटेनमेंट जोन की तादाद भी बढ़ती जा रही है। दिल्ली में अब कंटेनमेंट जोन्स की संख्या बढ़कर 219 पहुंच गई है।

उत्तरी दिल्ली में सर्वाधिक 33, उत्तर पूर्वी दिल्ली में सबसे कम 4 कंटेनमेंट जोन्स हैं। वहीं दक्षिण पश्चिमी दिल्ली में 31, दक्षिण दिल्ली में 28, पश्चिमी दिल्ली में 26, उत्तर पश्चिमी दिल्ली में 19 कंटेनमेंट जोन्स हैं। इसी तरह पूर्वी और सेंट्रल दिल्ली में 17-17, शाहदरा में 16 और नई दिल्ली में 14 कंटेनमेंट जोन्स हैं।


कोरोना वायरस का पीक पर आना बाकी- AIIMS निदेशक

AIIMS निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने चेताया कि अभी कोरोना वायरस का पीक पर आना बाकी है। अलग-अलग राज्यों में पीक का समय अलग-अलग हो सकता है। दिल्ली, मुंबई के जो हॉटस्पॉट्स हैं वहां पर हम कह सकते हैं कि लोकल ट्रांसमिशन हो रहा है, लेकिन पूरे देश में ऐसी स्थिति नहीं है। 10 से 12 ऐसे शहर है जहां पर लोकल ट्रांसमिशन के चांसेस हैं और 70 से 80 केस वहीं से आ रहे हैं।

लॉकडाउन से कोरोना संक्रमण नहीं हुआ कम

वहीं लॉकडाउन खोलने को लेकर डॉ. गुलेरिया ने कहा कि लॉकडाउन से हमें फायदा हुआ लेकिन ऐसा भी नहीं हुआ कि केसस एकदम आने कम हो गए। ऐसे में गरीबों की मदद के लिए इसे धीरे-धीरे खोलना अनिवार्य हो गया है। अब जब लॉकडाउन खुल रहा है तो हरेक व्यक्ति की जिम्मेदारी बढ़ जाती है। फिर चाहे वो मास्क लगाना हो या सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना।


9 जून से लखनऊ का चिड़ियाघर खुलेगा

9 जून से लखनऊ का चिड़ियाघर खुलेगा। चिड़ियाघर को 3 पालियों में खोला जाएगा। सुबह, दोपहर, शाम को चरणबद्ध तरीके से चिड़ियाघर खोला जाएगा। हर पाली के बाद सैनिटाइजेशन की प्रक्रिया होगी। फूड कोर्ट और कैंटीन को बंद रखा जाएगा।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।