×

एक्वा व ब्लू लाइन को पीएम मोदी व सीएम योगी दिखाएंगे हरी झंडी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 21 Aug 2018 3:15 PM GMT

एक्वा व ब्लू लाइन को पीएम मोदी व सीएम योगी दिखाएंगे हरी झंडी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नोएडा : एनएमआरसी की एक्वा लाइन व डीएमआरसी की ब्लू लाइन को एक साथ शुरु करने की योजना है। ताकि द्वारका से ग्रेटर नोएडा जाने वाले मुसाफिर को सीधे कनेक्टिविटी मिल सके। सेक्टर-71 इसके लिए जंक्शन होगा। स्काईवाक बनने तक दोनों ही स्टेशनों को ई-कार्ट से जोड़ा जाएगा। जिसे दोनों स्टेशनों के बीच एक वाकिंग ट्रेक बनाकर जोड़ दिया जाएगा। यह मेट्रो का एक बड़ा लूप तैयार होगा। जिससे मजेंटा लाइन के लिए भी मेट्रो पकड़ी जा सकेगी। इन दोनों लाइनों को अक्टूबर में शुरू करने की तैयारी है। जिसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हाथों किया जाएगा।

मंगलवार को एनएमआरसी के निदेशक आलोक टंडन ने अधिकारियों के साथ सेक्टर-71 मेट्रो स्टेशन का जायजा लिया। यहाँ उन्होंने आॅटोमेटिक फेयर कलेक्शन गेट का भी जायजा लिया। इस दौरान डीएमआरसी की ब्लू लाइन के निर्माण की जानकारी भी हासिल की। डीएमआरसी द्वारा सिटी सेंटर से इलेक्ट्रानिक सिटी तक ब्लू लाइन का विस्तार किया जा रहा है। इसका 80 प्रतिशत से ज्यादा काम पूरा किया जा चुका है।

उधर एनएमआरसी द्वारा सेक्टर-71 से ग्रेटर नोएडा डीपो तक मेट्रो का ट्रायल रन सोमवार से शुरू कर दिया है। जल्द ही रेलवे सुरक्षा समिति द्वारा अनुमति दिए जाने के बाद यहा अक्टूबर में इसे मुसाफिरों के लिए शुरू करने की योजना है। अधिकारियों का विचार है कि दोनों ही लाइनों को एक साथ शुरू किया जाए। ऐसा होने पर नोएडा ग्रेटरनोएडा से व गाजियाबाद से सीधे जुड़ जाएगा। या यू कहे कि दिल्ली के मुसाफिर सीधे एनएच-24 व ग्रेटरनोएडा आ जा सकेंगे। एनएमआरसी की इस लाइन के जरिए वह ब्लू लाइन व मजेंटा लाइन पर भी पहुंच सकेंगे।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story