त्रिपुरा : पत्रकार हत्या मामले में विधायक व 2 अन्य पर मामला दर्ज

अगरतला : पिछले साल हुई टीवी पत्रकार शांतनु भौमिक की हत्या के मामले में सीबीआई ने एक विधायक सहित तीन जनजातीय नेताओं पर मामला दर्ज किया है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि ‘इंडिजीनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा’ (आईपीएफटी) के एक विधायक धीरेंद्र देबबर्मा और पार्टी के नेता बलराम देबबर्मा और अमित देबबर्मा पर मामला दर्ज किया गया है।

आईपीएफटी जनजातीय समुदाय की पार्टी है और मुख्यमंत्री बिप्लब देबबर्मा की अगुवाई वाली सत्तारूढ़ भाजपा की सहयोगी है। 60 सदस्यीय त्रिपुरा विधानसभा में इसके आठ विधायक और दो कैबिनेट मंत्री हैं।

ये भी देखें :यूपी : BJP नेता की हत्या पर आक्रोश, NH जाम कर किया प्रदर्शन

अगरतला से 25 किलोमीटर दूर मंदई में 20 सितंबर 2017 को शांतनु की हत्या कर दी गई थी। अलग आदिवासी राज्य की मांग को लेकर आईपीएफटी के प्रदर्शन को कवर करते समय शांतनु की धारदार हथियारों से हत्या कर दी गई थी।

आईपीएफटी के उपाध्यक्ष अनंत देबबर्मा ने से कहा कि पार्टी इस बारे में बाद में टिप्पणी करेगी।

पश्चिमी त्रिपुरा के रामचंद्र नगर जिले में स्थित त्रिपुरा स्टेट राइफल्स (टीएसआर) के मुख्यालय में एक स्थानीय अखबार के पत्रकार सुदीप दत्ता (50) की भी 21 नवंबर को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

ये भी देखें :उमा भारती पर टिप्पणी कर बुरे फंसे बाबा रामदेव , देनी पड़ रही है सफाई

तत्कालीन वाम मोर्चा सरकार ने इन दोनों हत्याओं की जांच के लिए दो विशेष जांच दल का गठन किया था।

भाजपा की अगुवाई वाली सरकार ने मई में उच्च न्यायालय को बताया था कि उसने इस मामले को सीबीआई को सौंप दिया है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App