Top

सुशासन बाबू के बिहार में मुखिया पर नाबालिग के साथ दुष्कर्म का आरोप

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 22 Sep 2017 12:13 PM GMT

सुशासन बाबू के बिहार में मुखिया पर नाबालिग के साथ दुष्कर्म का आरोप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बिहार शरीफ : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जनपद नालंदा के हरनौत थाना क्षेत्र के एक ग्राम पंचायत के मुखिया पर एक नाबालिग लड़की ने दुष्कर्म का आरोप लगाया है। इस मामले में पीड़िता ने एक प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस के अनुसार, चेरो ग्राम पंचायत के मुखिया राकेश पासवान पर गांव की ही एक नाबालिग लड़की ने दुष्कर्म का आारोप लगाते हुए महिला थाने में एक प्राथमिकी दर्ज कराई है।

ये भी देखें: United Nations में भारत ने पाकिस्तान को दिया नाम ‘Terroristan’

दर्ज प्राथमिकी में आरोप लगाया गया है कि 17 सितंबर को पीड़िता जब अपने घर से बाहर कुछ सामान लेने बाजार निकली तो मुखिया ने पीड़िता को जबरन अपनी गाड़ी पर बिठा लिया और किराए के एक मकान में ले गया, जहां बहला-फुसलाकर उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया।

ये भी देखें: लेबर मिनिस्ट्री: मोदी सरकार में 60 फीसदी घट गए नई नौकरियों के मौके

आरोपी ने पीड़िता को धमकी भी दी कि यदि उसने घटना की जानकारी किसी को दी तो उसके पूरे परिवार को बर्बाद कर दिया जाएगा। इससे डरकर छात्रा ने किसी को भी इस बारे में नहीं बताया, लेकिन उसके परिवार वालों को इस बात की जानकारी हो गई।

ये भी देखें: लोरेटों में 16 अक्टूबर, तो लामार्ट्स में नवंबर से मिलेंगे फॉर्म, इन स्कूलों में भी मिलेगा दाखिला

बाद में परिजनों ने इस मामले की सूचना पुलिस को दी। नालंदा महिला थाने की प्रभारी पिंकी प्रसाद ने शुक्रवार को बताया कि पीड़िता के बयान पर गुरुवार को महिला थाना में दुष्कर्म की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है।

ये भी देखें: त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार: छह महीने, छह उपलब्धियां, छह झगड़े

घटना के बाद से आरोपी फरार बताया जा रहा है। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story