Top

दो टीचर महीनों करते रहे दुष्कर्म, जब वो गर्भवती हुई तो छोड़ दिया मरने के लिए

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 19 Sep 2017 2:05 PM GMT

दो टीचर महीनों करते रहे दुष्कर्म, जब वो गर्भवती हुई तो छोड़ दिया मरने के लिए
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर : राजस्थान के सीकर जिले में 12वीं कक्षा की छात्रा के साथ स्कूल के निदेशक और शिक्षक द्वारा दुष्कर्म की खबर फैलने के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने मंगलवार को स्कूल पर पथराव कर दिया। पुलिस ने कहा कि स्कूल के निदेशक जगदीश प्रसाद और एक शिक्षक जगत सिंह गुर्जर को पुलिस ने 18 साल की छात्रा के साथ दुष्कर्म के आरोप में पकड़ा है।

नीम का थाना के थानाध्यक्ष कुशल सिंह ने बताया, "हमनें जगदीश और जगत को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है।"

ये भी देखें:खराब सफाई व्यवस्था के कारण बहुत से पर्यटक भारत नहीं आते : जावडेकर

सीकर के अजीतगढ़ के पास एक गांव में स्थित सह शिक्षा विद्यायल जनता बाल निकेतन के बाहर सुबह 100 से 150 की तादाद में ग्रामीण पहुंचे और स्कूल पर पत्थर बरसाने लगे जिसके कारण स्कूल की कुछ खिड़कियां टूट गईं।

अजीतनगर थाने के असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर मूलराम ने कहा, "स्कूल को बंद कराना पड़ा।"

ये भी देखें:छात्रों के उज्ज्वल भविष्य के लिए रूस एजुकेशन ने सोब्रायिने-2017 का किया आयोजन

एक स्थानीय निवासी अजीत सिंह ने फोन पर कहा, "गांव में घटना को लेकर गुस्सा है। हमनें कभी नहीं सोचा था कि हमारे इलाके में इस तरह की घटना होगी। हमारी मांग है कि स्कूल की मान्यता रद्द की जाए।"

छात्रा का बयान उसके स्वास्थ्य में सुधार होने के बाद दर्ज कराया जाएगा।

जयपुर के एसएमएस अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। वहां के एक चिकित्सक ने कहा कि उसकी हालत नाजुक बनी हुई है और वह बेहोश है।

ये भी देखें:पेट्रोल-डीजल के दाम पर बीजेपी में मचा संग्राम, पूर्व CM ने उठाए सवाल

यह आरोप लगाया गया है कि दो पुरुषों ने अतिरिक्त कक्षाएं लेने के बहाने दो महीने तक किशोरी के साथ दुष्कर्म किया। जब वह गर्भवती हो गई, तो उसे शाहपुरा के एक अस्पताल ले जाकर उसका गुप्त तरीके से गर्भपात कराया गया। ज्यादा खून बहने के कारण उसकी हालत खराब होती चली गई।

ये भी देखें:सनी लियोन ने जब कुछ यूं दी नवरात्रि की बधाई, तो लोगों ने कर दी उनकी शिकायत

छात्रा को अजीतगढ़ के एक अस्पताल ले जाया गया जहां उसके परिवार को बताया गया कि वह गर्भपात करा चुकी है। वहां से उसे जयपुर के अस्पताल के लिए रेफर किया गया।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story