अगर आप यहां बेचते हैं यूज किया हुआ सामान, तो बदले में मिलेगा आपको अच्छा दाम

Published by January 6, 2017 | 2:09 pm
amazon used selling service

amazon used selling service

नई दिल्ली: घर की ठीक तरह से सफाई तभी होती है, जब कोई बड़ा त्योहार आता है। ऐसे में घर में टाइम टू टाइम काफी तरह का सामान इकट्ठा होता रहता है। वहीं कई बार लोगों के शॉपिंग शौक की वजह से भी घरों में खूब सारा सामान इकट्ठा हो जाता है। जिसकी वजह से नए सामान को लोग घरों में जगह नहीं दे पाते हैं। ऐसे में लोगों को परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है। अब एक सरल सा सॉल्यूशन आ गया है, जिससे की आपका घर खाली हो जाएगा और बदले में आपको पैसे भी मिलेंगे।

अब आप यूज किए हुए किसी सामान को बेचना चाहते हैं, तो इसे आसानी से अमेजन इंडिया पर बेच सकते हैं। कंपनी ने पिक-पैक-एंड-पे सर्विस नाम दिया है। इस सर्विस के तहत कंपनी का एम्पलॉय खुद आपके पास आएगा, प्रोडक्ट लेगा और इसके खरीदार को डिलीवर भी करेगा। इसके जरिए आप अपना यूज किया हुआ सामान दूसरे इंसान को डायरेक्ट बेच सकेंगे।

आगे की स्लाइड में जानिए आप क्या-क्या सामान बेच सकते हैं अमेजन इंडिया पर

amazon used selling service

आपको बता दें कि अभी यह सुविधा बैंगलोर में शुरू की गई है और जल्द ही इसे दूसरे शहरों में भी शुरू करने का प्लान बनाया जा रहा है। इसके लिए कुछ कैटेगरी बनाई गई हैं, जिनमें यूज किए हुए लैपटॉप, मोबाइल फोंस, गैजेट्स, वीडियो गेम, किताबें, मूवी सीडीज और टेबलेट्स आदि शामिल हैं। लेकिन इसके लिए कंपनी ने कुछ चार्ज भी डिसाइड किया है। जैसे 1000 रुपए से कम के प्रोडक्ट्स पर 10 रुपए, 1000-5000 रुपए की कीमत वाले प्रोडक्ट्स पर 50 रुपए और 5000 रुपए से ऊपर की कीमत के प्रोडक्ट्स पर 100 रुपए प्रति प्रोडक्ट लिए जाएंगे। बेचने वाले को अपना सामान बेचने पर कंपनी को तय किया हुआ पेमेंट देना होगा।

यूज किए हुए सामान को बेचने और खरीदने की सुविधा देने वाली यह पहली कंपनी नहीं है।

आगे की स्लाइड में जानिए कैसे लोग बेच सकते हैं यूज किया हुआ सामान

amazon used selling service

सबसे पहले यूजर्स को अपना प्रोडक्ट रजिस्टर करवाने के लिए जंगली डॉट कॉम पर अपना अकाउंट बनाएं। जहां सेलर के सामने लोकेशन या शहर का ऑप्शन आएगा। वहां आपको अपना ऑप्शन सेलेक्ट करना होगा। इसके बाद होमपेज पर क्लिक करें और यहां लिस्ट योर प्रोडक्ट का ऑप्शन क्लिक करें। इस ऑप्शन में सेलर को अपने प्रोडक्ट से जुड़ी सारी इनफार्मेशन देनी होगी।

 इसके बाद सेलर को अपना एड्रेस, ई-मेल आईडी और मोबाइल नंबर डालने के बाद पोस्ट योर ऐड का ऑप्शन सलेक्ट करना होता है। लेकिन ध्यान रहे कि इसके लिए सेलर का वेबसाइट पर अकाउंट होने जरूरी है।