त्रिपुरा: बीजेपी समर्थक पार्टी कार्यकर्ताओं ने की पत्रकार शांतनु की हत्या

Published by Gagan D Mishra Published: September 21, 2017 | 4:42 am
Modified: September 21, 2017 | 4:51 am
shantanu-bhowmik

अगरतला: पिछले दिनों कन्नड़ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद से ही पत्रकारों की सुरक्षा पर सवाल उठ रहे है। इसी बीच त्रिपुरा में एक टीवी पत्रकार शांतनु भौमिक की बुधवार को हत्या कर दी गई है । वहां की स्थानीय मीडिया के अनुसार कथित तौर पर आदिवासी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पत्रकार की हत्या की है ।

यह भी पढ़ें…बेंगलुरू में वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की उनके घर पर गोली मारकर हत्या

स्थानीय मीडिया के अनुसार त्रिपुरा राजेर उपजाति गण मुक्ति परिषद (टीआरयूजीपी) के समर्थक जीएमपी की एक रैली में शामिल होने के लिए अगरतला जा रहे थे और खोवई में बस स्टैंड पर इकट्ठा हुए थे। वहां इंडीजिनस पीपल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) के कार्यकर्ताओं का एक समूह भी मौजूद था, जिन्हें रैली के बारे में पता चला और वे कथित रूप से भड़क गए। उसी खबर को कवर करने स्थानीय टीवी पत्रकार शांतनु भौमिक अपने सहयोगी के साथ यहां पहुंचे थे ।

पुलिस के मुताबिक लोकल न्यूज़ चैनल दिन रात के पत्रकार शांतनु भौमिक मंडई में आईपीएफटी के सड़क जाम तथा आंदोलन को कवर रहे थे। उसी दौरान उन पर पीछे से हमला किया गया और उनका अपहरण कर लिया गया।
उन्होंने कहा कि बाद में जब भौमिक का पता लगा और तब देखा गया कि उनके शरीर पर चाकू से हमले के कई निशान थे। उन्हें तत्काल अगरतला मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें…गौरी लंकेश की हत्या पर उदारवादियों, बुद्धिजीवियों पर प्रसाद ने साधा निशाना

पुलिस के मुताबिक घटना के बाद से ही मंडाई के साथ-साथ पश्चिमी त्रिपुरा के 10 से अधिक जगहों पर धारा 144 लागू कर दी गई है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App