झारखंड चुनाव: PM मोदी का हमला, कांग्रेस-JMM ने CM की कुर्सी का किया सौदा

झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने पूरी ताकत झोंक दी है। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खूंटी और जमशेदपुर में जनसभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) पार्टी पर जमकर हमला बोला। इसके साथ ही पीएम मोदी ने केंद्र सरकार और राज्य की रघुवर दास सरकार की उपलब्धियों को गिनाया।

रांची: झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने पूरी ताकत झोंक दी है। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खूंटी और जमशेदपुर में जनसभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) पार्टी पर जमकर हमला बोला। इसके साथ ही पीएम मोदी ने केंद्र सरकार और राज्य की रघुवर दास सरकार की उपलब्धियों को गिनाया।

पीएम मोदी ने कहा कि आज की इस रैली का ये विशाल नजारा, हवा का ये रुख साफ बताता है कि पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार बनाना आपने तय कर लिया है।
झारखंड में जहां-जहां मुझे जाने का मौका मिला है, वहां इतनी बड़ी संख्या में जन आशीर्वाद के लिए मैं झारखंड की भूमि को नमन करता हूं।

जमशेदपुर की ये धरती श्रम की धरती है, उद्यम की धरती है। ये धरती लाखों लोगों के सपनों को साकार करने वाली धरती है, दुनिया में भारत की प्रतिष्ठा को बढ़ाने वाली धरती है। दशकों से चली आ रही इस व्यवस्था में परिवर्तन का बहुत बड़ा लाभ झारखंड को मिला है। आज झारखंड भारत के इतिहास की कुछ क्रांतिकारी योजनाओं की गंगोत्री और उद्गम स्थली बना है।

यह भी पढ़ें…योगी कैबिनेट ने 34 अहम फैसलों को दी मंजूरी, किए ये बड़े ऐलान

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री बनने के बाद जमशेदपुर का ये मेरा दूसरा कार्यक्रम है। 2016 में जब मैं यहां आया था तो मैंने कहा था कि हमारी सरकार दिल्ली तक सीमित रहने वाली सरकार नहीं है। आज भाजपा ने केंद्र सरकार को दिल्ली से बाहर निकालकर देश के कोने-कोने तक पहुंचाया है।

पीएम ने कहा कि 2022 तक देश के हर आदिवासी बाहुल्य ब्लॉक तक एकलव्य मॉडल स्कूल बनाने की शुरुआत भी झारखंड से ही हुई है। इसके अलावा झारखंड की धरती से ही ग्रामोदय से भारत उदय का सफल अभियान भी शुरू किया था और इस साल अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का कार्यक्रम भी यहीं किया गया।

पीएम मोदी ने कहा कि आयुष्मान योजना जो दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना है, उसकी शुरुआत का गौरव झारखंड के खाते में है। देश के किसान को, खेत मजदूर को, छोटे दुकानदार के लिए 60 साल की उम्र के बाद निश्चित पेंशन योजना की शुरुआत का गौरव भी झारखंड को मिला है। आज झारखंड की बुलंद पहचान देश और दुनिया में है।

यह भी पढ़ें…इनकम टैक्स ने कांग्रेस को भेजा नोटिस, ऐसे लिया 100 करोड़ से ज्यादा का चंदा

उन्होंने कहा कि पांच साल पहले कांग्रेस-JMM के राज में यहां से सिर्फ भ्रष्टाचार, लूट की खबरें आती थीं। इन दलों के अनेक शीर्ष नेताओं पर आज भी भ्रष्टाचार के केस अदालतों में चल रहे हैं। राज्य को देश और दुनिया में पहचान दिलाने का श्रेय आपको और रघुवर दास जी को है। आज झारखंड की बुलंद पहचान देश और दुनिया में है। लेकिन 5 साल पहले यहां क्या स्थिति थी? कांग्रेस और JMM के राज में यहां से सिर्फ और सिर्फ भ्रष्टाचार और लूट की खबरें आती थीं।

पीएम मोदी ने कहा कि अपने स्वार्थ और भ्रष्टाचार के लिए इन्होंने मुख्यमंत्री पद की कुर्सी तक का सौदा कर दिया था। उस दौरान यहां क्या-क्या खेल, खेले गए इसकी जानकारी आप सभी को है। पांच वर्ष पहले तक झारखंड राजनीतिक अस्थिरता के लिए चर्चा में रहता था। सिर्फ 15 साल में झारखंड ने 10 बार मुख्यमंत्रियों को बदलते देखा है। मैं गुजरात में 13 साल तक अकेला मुख्यमंत्री रहा। इस स्थिरता का परिणाम है कि आज गुजरात कहां से कहां पहुंच गया।

उन्होंने कहा कि भाजपा ने अस्थिरता के इस दौर पर रोक भी लगाई और पहली बार 5 वर्ष तक एक ही मुख्यमंत्री झारखंड को दिया। इसी स्थिरता का परिणाम है कि नक्सलवाद पर प्रभावी कार्रवाई हो पा रही है, बिजनेस के लिए अनुकूल माहौल बन पाया है। कांग्रेस और JMM के अवसरवादी गठबंधन को यहां की स्थिरता रास नहीं आती। इसलिए वो एक अस्थिर व्यवस्था यहां चाहते हैं। एक ऐसी व्यवस्था जिसमें इनका कारोबार फलता-फूलता रहे।

यह भी पढ़ें…मुस्लिम पक्ष ने वकील राजीव धवन को राम जन्मभूमि केस से हटाया, बताई ये बड़ी वजह

इससे पहले खूंटी के बिरसा स्टेडियम में जनसभा संबोधित करते हुए कहा कि कुछ दिन पहले ही देश ने भगवान बिरसा मुंडा की जन्म जयंती मनाई है, आज जब मैं उनकी धरती पर आया हूं, तो उनको एक बार फिर मैं नमन करता हूं। 3 दिसंबर को ही परमवीर चक्र विजेता अल्बर्ट एक्का वीरगति को प्राप्त हुए थे, मैं उस महान सपूत को नमन करता हूं।

पीएम मोदी ने कहा कि झारखंड के लोगों में भाजपा सरकार के प्रति और कमल के फूल के प्रति एक विश्वास की भावना है। ये भाव है कि झारखंड का विकास अगर कोई दल कर सकता है तो वो सिर्फ और सिर्फ भाजपा की कर सकती है।

उन्होंने कहा कि पहले चरण के मतदान से 3 बाते स्पष्ट हुई हैं- पहली लोकतंत्र को मजबूत करने और राष्ट्र निर्माण में झारखंड के लोगों की आस्था अभूतपूर्व है।
दूसरी भाजपा सरकार ने जिस प्रकार नक्सलवाद की कमर तोड़ी है, उससे यहाँ डर का माहौल कम हुआ है और विकास का माहौल बना है। तीसरी बात ये भी स्पष्ट हुआ है कि, झारखंड के लोगों में भाजपा सरकार के प्रति एक विश्वास की भावना है।

यह भी पढ़ें…पीएम मोदी का ऐसा ‘भक्त’! कूद गया राजनाथ के काफिले में, फिर जो हुआ…

पीएम मोदी ने कहा कि आज झारखंड के लोग देख रहे हैं कि दिल्ली और रांची में डबल इंजन लगाने से विकास की गति तेज भी होती है और स्थायी होती है।
यहां की जनता सहज रूप से कह रही है झारखंड पुकारा, भाजपा दोबारा। झारखंड के विकास के लिए भाजपा की वापसी जरूरी है।

पीएम मोदी ने कहा कि आज उन जनजातीय क्षेत्रों में भी पानी की लाइन पहुंच रही है, जिनको कांग्रेस-JMM की सरकारों ने अपने हाल पर छोड़ दिया था। उन पिछड़ों और आदिवासी परिवारों को भी अपना घर मिल पा रहा है, जिनको कांग्रेस-JMM की सरकारों ने झोंपड़ियों में रहने के लिए मजबूर कर रखा था।

उन्होंने कहा कि दिल्ली और रांची में भाजपा का डबल इंजन किसानों और आदिवासियों का जीवन आसान बनाने का काम कर रहा है। यहां के सभी किसान परिवारों और कृषि से जुड़े आदिवासी परिवारों के खातों में पीएम किसान सम्मान निधि के तहत सीधा लाभ पहुंचाया जा रहा है। झारखंड ये भली भांति जानता है कि कांग्रेस और JMM की राजनीति छल और स्वार्थ की राजनीति है। जबकि भाजपा कर्म और सेवा भाव से काम करती है।

यह भी पढ़ें…100 रुपए की घूस! फिर क्या साहब का CBI ने कर दिया ये हाल

पीएम मोदी ने कहा कि आपके पड़ोस में जहां भाजपा की सरकारें नहीं है, वहां की स्थिति आप देख लीजिए। वहां किसानों, आदिवासियों और पिछड़ों के साथ झूठे वायदे करके कांग्रेस और उसके साथी दलों ने सरकार तो बना ली, लेकिन अब वादा पूरा करने से दूर भाग रहे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि राम जन्मभूमि को लेकर जिस विवाद को कांग्रेस और उसके सहयोगियों की सरकारों ने लगातार लटकाए रखा, वो भी शांतिपूर्ण ढंग से हल हो गया। भगवान राम अयोध्या से जब निकले थे तब तो राजकुमार राम थे और जब 14 साल के वनवास के बाद वापस आए तो मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम बन गए। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि 14 साल भगवान राम ने आदिवासियों के बीच बिताए थे। ये संस्कार हैं आदिवासी भाई-बहनों के।

यह भी पढ़ें…अखिलेश बोले, भाजपा राज में कहीं सुरक्षित नहीं हैं महिलाएं और बेटियां

प्रधानमंत्री ने कहा कि इतने लंबे काल से लटकी हुई चीजे जिन्हें अटकाने के लिए राजनीतिक स्वार्थ से प्रेरित लोगों ने अड़ेंगे डाले, लेकिन हमने देश में शांति, एकता, सद्भाव के लिए समस्याओं का समाधान खोजने का प्रयास किया और सफलतापूर्वक आगे बढ़ रहे हैं।

बता दें खूंटी झारखंड का वह जिला है जहां वर्ष 2017 और 2018 में 10 हजार से अधिक लोगों पर देशद्रोह का केस दर्ज हुआ था। इन पत्थलगढ़ी समर्थकों पर देश की कानून व्यवस्था बिगाड़ने के आरोप में उनके खिलाफ के दर्ज किया गया था।