×

भारत-पाकिस्तान रिश्ते सुधारने में 'रचनात्मक' भूमिका निभाना चाहता है चीन

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 22 Aug 2018 4:38 PM GMT

भारत-पाकिस्तान रिश्ते सुधारने में रचनात्मक भूमिका निभाना चाहता है चीन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बीजिंग : चीन ने बुधवार को कहा कि वह भारत और पाकिस्तान के बीच संबंधों को सुधारने में रचनात्मक भूमिका निभाना चाहता है। चीन ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पाकिस्तान के अपने समकक्ष इमरान खान को पत्र लिखे जाने का स्वागत किया।

हालांकि, बीजिंग की ओर से यह स्पष्ट नहीं किया गया कि उसकी 'रचनात्मक भूमिका' का क्या अभिप्राय है।

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने कहा, "द्विपक्षीय संबंधों को सुधारने को लेकर भारत और पाकिस्तान के नेताओं के बयानों का हम स्वागत करते हैं।"

ये भी देखें : Trade war : चीनी उत्पादों पर दोबारा आयात शुल्क लगाएगा अमेरिका

लू ने कहा, "पाकिस्तान और भारत के पड़ोसी होने के नाते चीन दोनों पक्षों के बीच वार्ता में प्रगति लाने और आपसी विश्वास बहाली व उनके मतभेदों को सही तरीके से सुलझाने का समर्थन करता है। हम आशा करते हैं कि क्षेत्रीय शांति और विकास के प्रति दोनों पक्ष संयुक्त रूप प्रतिबद्ध हो सकते हैं। चीन इस दिशा में रचनात्मक भूमिका निभाना चाहता है।"

उनसे जब यह पूछा गया कि चीन द्वारा 'रचनात्मक भूमिका' निभाने से उनका क्या अभिप्राय है तो उन्होंने कहा, "मैंने महज इतना कहा कि हम द्विपक्षीय संबंधों में सुधार लाने के लिए भारत और पाकिस्तान के सकारात्मक बयान से प्रसन्न हैं। हम उसका स्वागत करते हैं और हम इस संबंध में रचनात्मक भूमिका निभाना चाहेंगे।"

उनसे जब पूछा गया कि रचनात्मक भूमिका से क्या उनका मतलब मध्यस्थ की भूमिका निभाना है तो उन्होंने कहा, "इस संबंध में मैं पहले से ही निर्णय नहीं दे सकता या यह कि किस पहलू व क्षेत्र में हम क्या करेंगे।"

ये भी देखें : UAE की 700 करोड़ की हेल्प नहीं लेगी मोदी सरकार, वजह मनमोहन हैं

मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री चुने जाने पर इमरान खान को पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने क्षेत्र की भलाई के लिए पड़ोसी देश के साथ अच्छे रिश्ते बनाने और 'अर्थपूर्ण व रचनात्मक संपर्क' पर बल दिया था। मोदी ने भारतीय उपमहाद्वीप को आतंक और हिंसा मुक्त बनाने की आवश्यकता पर बल दिया था।

बजाहिर, मोदी के पत्र पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए खान ने ट्वीट के जरिए कहा, "आगे बढ़ने के लिए भारत और पाकिस्तान को बातचीत करनी ही चाहिए और कश्मीर समेत आपसी मतभेदों का समाधान करना चाहिए।"

इससे पहले, खान ने कहा था कि भारत अगर एक कदम चलेगा तो पाकिस्तान दो कदम बढ़ाएगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story