×

IND v/s SA: रोमांचक मैच में 7 रन से जीता भारत, सीरीज पर कब्जा

गेंदबाजों के संघर्ष भरे प्रदर्शन के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने शनिवार को न्यूलैंड्स क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए रोमांचक टी-20 मैच में दक्षिण अफ्रीका को सात रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारत ने तीन टी-20 मैचों की सीरीज पर 2-1 से अपने नाम कर ली। 

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 25 Feb 2018 3:30 AM GMT

IND v/s SA: रोमांचक मैच में 7 रन से जीता भारत, सीरीज पर कब्जा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

केपटाउन: गेंदबाजों के संघर्ष भरे प्रदर्शन के दम पर भारतीय क्रिकेट टीम ने शनिवार को न्यूलैंड्स क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए रोमांचक टी-20 मैच में दक्षिण अफ्रीका को सात रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारत ने तीन टी-20 मैचों की सीरीज पर 2-1 से अपने नाम कर ली।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में दक्षिण अफ्रीका को 173 रनों का लक्ष्य दिया था, जिसे हासिल करने में मेजबान टीम केवल सात रनों से चूक गई।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका ने अपना पहला विकेट जल्द ही गंवा दिया। रीजा हैंड्रिक्स (7) भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर शिखर धवन के हाथों कैच आउट हुए।

सलामी बल्लेबाज डेविड मिलर (24) ने इसके बाद कप्तान जीन पॉल ड्युम्नी (55) के साथ मिलकर 35 रनों की साझेदारी की, लेकिन यहां सुरेश रैना ने मिलर को 45 के कुल योग पर अक्षर पटेल के हाथों कैच आउट करवाकर मेजबान टीम का दूसरा विकेट गिराया।

इस बीच, 12वें ओवर में गेंदबाजी करने आए अक्षर पटेल ने पहली ही गेंद पर हेनरिक क्लासेन (7) को लगभग पवेलियन भेज दिया था, लेकिन शार्दूल ठाकुर के हाथों से कैच छूटने के साथ ही अक्षर की सारी मेहनत पर पानी फिर गया।

पिछले मैच में दक्षिण अफ्रीका के लिए सबसे अधिक रन बनाने वाले क्लासेन के भाग्य ने दूसरी बार उनका साथ नहीं दिया। 13वें ओवर में वह हार्दिक पांड्या की गेंद पर लंबा शॉट मारने के कराण बाउंड्री के पास खड़े भुवनेश्वर के हाथों में कैच थमा बैठे।

कप्तान ड्युम्नी (55) ने इसके बाद इस मैच से टी-20 प्रारूप में पदार्पण करने वाले खिलाड़ी क्रिस्टियन जोंकर (49) के साथ मिलकर 30 रनों की साझेदारी की और टीम को 100 के आंकड़े के पार पहुंचाया।

इस बीच, ड्युम्नी ने अपना अर्धशतक भी पूरा किया। हालांकि, वह अर्धशतक के बाद ज्यादा देर तक मैदान पर टिक नहीं पाए। शार्दूल ने भारत की जीत में परेशानी बनकर खड़े ड्युम्नी को रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट करा मेहमान टीम को बड़ी सफलता दिलाई।

जसप्रीत बुमराह ने क्रिस मौरिस को 114 के स्कोर पर बोल्ड कर मेजबान टीम का पांचवां विकेट भी गिरा दिया। दक्षिण अफ्रीका अब अपने लक्ष्य से दूर होती जा रही थी। यहां अपना पहला टी-20 मैच खेल रहे जोंकर ने 18वें ओवर में 18 रन बनाने के साथ ही मेजबान टीम को एक आस दे दी।

दक्षिण अफ्रीका को अब 12 गेंदों में 35 रन बनाने थे। ऐसे में उसे हर गेंद में तीन रन बनाने थे। जोंकर ने फरहान बेहरदीन (नाबाद 15) के साथ 51 रनों की अर्धशतकीय साझेदारी की, लेकिन वह अपने लक्ष्य को हासिल करने से केवल सात रन दूर रह गए। अंतिम गेंद पर भुवनेश्वर ने जोंकर रोहित के हाथों कैच आउट करा दिया। उन्होंने 24 गेंदों पर पांच चौके और दो छक्के लगाए।

भारत के लिए भुवनेश्वर ने सबसे अधिक दो विकेट लिए, वहीं बुमराह, शार्दूल, पांड्या और रैना को एक-एक सफलता मिली।

इससे पहले, बल्लेबाजी करने वाली भारतीय टीम के लिए पारी की शुरूआत डगमगाई हुई रही। विराट कोहली के स्थान पर टीम की कमान संभाल रहे रोहित (11) जल्दी ही पवेलियन लौट गए। उन्हें जूनियर डाला ने पगबाधा आउट कर मेहमान टीम की पहला विकेट गिराया।

इस बीच, क्रिस मौरिस ने छठे ओवर में शिखर धवन (47) को लगभग पवेलियन का रास्ता दिखा दिया था, लेकिन शम्सी ने कैच चूक कर धवन को जीवनदान दिया। इसके बाद, धवन ने रैना (43) के साथ 65 रनों की शानदार अर्धशतकीय साझेदारी कर टीम को 79 के स्कोर तक पहुंचाया। इसी स्कोर पर रैना को तबरेज शम्सी ने आउट किया। रैना लंबा शॉट मारने की कोशिश में बाउंड्री पर खड़े बेहरादीन के हाथों लपके गए।

एक बार फिर धवन की किस्मत मे उनका साथ दिया। 13वें ओवर की तीसरी गेंद पर एक बार फिर शम्सी धवन को कैच करने का अवसर चूक गए। हालांकि, पिछले मैच में भारत के लिए सबसे अधिक रन बनाने वाले मनीष पांडे (13) को जीवनदान नहीं मिल पाया।

पिछले दो मैचों में भारतीय बल्लेबाजों के लिए परेशानी का सबब बने रहने वाले डाल की गेंद पर पांडे लंबा शॉट लगाकर चौका लगाने की आस में मिलर के हाथों लपके गए। दो बार अच्छी किस्मत से बचने वाले धवन भी इसके बाद ज्यादा देर तक मैदान पर नहीं टिक पाए। वह डाला की ही गेंद पर रन आउट हो गए।

धवन के आउट होने के बाद पांड्या (21) और महेंद्र सिंह धौनी (12) ने टीम की पारी संभाली। दोनों ने 25 रन ही जोड़े थे कि एक बार फिर परेशानी बनकर खड़े हुए डाला ने इस बार धौनी को अपना शिकार बनाया। धौनी मिलर के हाथों कैच आउट हुए। धौनी जब आउट हुए, तब टीम का स्कोर 151 था।

धौनी के आउट होने के बाद मौरिस ने पांड्या को अधिक देर तक मैदान पर नहीं टिकने दिया। पांड्या विकेट के पीछे खड़े हेनरिक क्लासेन के हाथों लपके गए। मौरिस ने इसके बाद दिनेश कार्तिक (13) को भी पवेलियन का रास्ता दिखाया।

इसके बाद अक्षर पटेल (नाबाद 1) और भुवनेश्वर (नाबाद 3) ने टीम को निर्धारित ओवर समाप्त होने तक 172 के स्कोर तक पहुंचाया।

दक्षिण अफ्रीका के लिए इस पारी में डाला ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए। इसके अलावा, मौरिस को दो और शम्सी को एक सफलता मिली।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story