ट्रंप की इंडिया को धमकी- टैक्स कम नहीं किया तो भुगतना होगा अंजाम

अब तक भारत के दोस्त दिख रहे अमरीका के प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप ने ट्रेड वार की चेतावनी देते हुए भारत को धमकी दी है कि यदि उसके सामानों पर टैक्स कम नहीं किया गया तो इसके नतीजे गंभीर हो सकते हैं।
 

वाशिंगटन: अब तक भारत के दोस्त दिख रहे अमरीका के प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रंप ने ट्रेड वार की चेतावनी देते हुए भारत को धमकी दी है कि यदि उसके सामानों पर टैक्स कम नहीं किया गया तो इसके नतीजे गंभीर हो सकते हैं।
ट्रंप ने भारत के साथ चीन को भी धमकी दी है कि अगर अमेरिकी सामानों पर टैक्स कम नहीं किया गया तो वे भी उतना ही टैक्स लगाएंगे। ट्रंप ने कहा कि अमेरिका दूसरे देशों से आयातित सामानों पर बहुत कम टैक्स लगाता है, लेकिन दूसरे देश हमारे सामानों पर ज्यादा टैक्स लगाते हैं। दूसरे देश टैक्स कम नहीं करेंगे तो हम भी जवाबी टैक्स लगाएंगे।
ट्रंप ने कई बार अमेरिका से आयातित महंगी मोटरसाइकिल हार्ले डेविडसन पर करीब 50 प्रतिशत शुल्क लगाने का मुद्दा भारत के सामने उठाया है। अमेरिका भारत से आयातित मोटरसाइकिल पर शून्य शुल्क लगाता है। ट्रंप ने कहा कि चीन 25 प्रतिशत कर लगाता है या भारत 75 प्रतिशत शुल्क लगाता है, और हम उन पर कोई शुल्क नहीं लगाते।
निष्पक्ष व्यवहार न करने का लगाया आरोप
अमरीकी प्रेसिडेंट ने कहा कि अगर वे 50 प्रतिशत या 75 प्रतिशत या फिर 25 प्रतिशत कर लगाते हैं तो  हम भी उतना ही कर लगाएंगे, इसे जवाबी कर कहते हैं। अमेरिकी कंपनियों के साथ अन्य देश निष्पक्ष व्यवहार नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि चीन अमेरिकी कारों पर 25 प्रतिशत शुल्क लगाता है जबकि आयातित चीनी कारों पर अमरीका में 2.5 प्रतिशत शुल्क लगाया जाता है।
ट्रेड वॉर की बढ़ी आशंका
ट्रंप के इस फैसले से दुनियाभर में चिंता का माहौल पसर गया है और ट्रेड वॉर की आशंका बढ़ गई है। चीन ने इसका पुरजोर विरोध किया है। चीन का कहना है कि ट्रेड वॉर कभी भी फायदेमंद नहीं होता। फ्रांस ने भी इसको लेकर नाराजगी जताई है। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि ट्रेड वॉर का माहौल पैदा हो सकता है।
भारत पर इसका ज्यादा असर इसलिए नहीं होगा क्योंकि देश के कुल निर्यात में अमेरिका की हिस्सेदारी सिर्फ दो प्रतिशत है।
क्या है ट्रेड वॉर
ट्रेड वॉर अर्थात कारोबार की लड़ाई दो देशों के बीच होने वाले संरक्षणवाद का नतीजा होता है।   यह स्थ‍िति तब पैदा होती है, जब कोई देश किसी देश से आने वाले सामान पर टैरिफ ड्यूटी बढ़ाता है और इसके जवाब में सामने वाला देश भी इसी तरह ड्यूटी बढ़ाने लगता है।

    Tags: