इन सपनों को देखने से आता है दुर्भाग्य या सौभाग्य, जानिए स्वपनफल

कभी किसी आशंका से ग्रस्त कर देती है। यहां प्रस्तुत व्याख्या उस हालत में आए स्वप्नों से संबं‍धित होती है, शरीर सो रहा होता है; किंतु आत्मा जाग रही होती है। कुछ प्रमुख सपने जो अधिकांश लोगों को आते हैं।

जयपुर: सपनों की रंगीन दुनिया है लोग सपने देखते हैं। कई लोगों के सपने पूरे भी होते हैं। लेकिन कभी  कोशिश की है कि सोने के बाद  देखे गए सपने का शुभ-अशुभ फल  क्या होता है । शास्त्रों की मानें तो जो स्वप्न देखते हैं उसका हमारे जीवन पर शुभ और अशुभ दोनों फल मिलता है। सपने हमारे जीवन में कभी खुशियों की वर्षा करती है, तो कभी किसी आशंका से ग्रस्त कर देती है। यहां प्रस्तुत व्याख्या उस हालत में आए स्वप्नों से संबं‍धित होती है, शरीर सो रहा होता है; किंतु आत्मा जाग रही होती है। कुछ प्रमुख सपने जो अधिकांश लोगों को आते हैं।

गुस्सा- स्वप्न में यह देखना कि किसी पर गुस्सा कर रहे हैं, इस बात का सूचक है कि वह  प्रिय मित्र है। यदि कोई और व्यक्ति स्वप्न में गुस्सा करता है, तो इसका मतलब है, वह आपसे सच्चा प्रेम करता है।
सेब- स्वप्न में सेब दिखाई देना दीर्घ आयु और व्यापार में सफलता का सूचक है। यदि कोई स्त्री स्वप्न में सेब देखती है, तो उसका अर्थ है कि उसके पुत्र उत्पन्न होगा और वह खूब फूले-फलेगा।

स्नान- स्वप्न में शांत, शीतल और स्वच्छ पानी में अपने नहाते हुए देखने का अर्थ है कि सफलता और संपन्नता पाएंगे। यदि पानी-मिट्टी वाला या गंदा है, तो दुर्भाग्य का सूचक है।
बिल्लियां- स्वप्न में बिल्ली देखना कपट और विश्वासघात का सूचक है।

इनकी वजह से भगवान शिव को जाना पड़ा बद्रीनाथ से बाहर,पुराणों में हैं वर्णन

पाताल- स्वप्न में स्वयं को पाताल में देखना भयंकर मुसीबतों और कठिनाइयों का सूचक है।
दुर्घटना- स्वप्न में दुर्घटना देखने का अर्थ है कि आप निजी कठिनाइयों से घिर जाएंगे।

घं‍टियां- स्वप्न में घंटियां बजते हुए सुनना किसी शुभ समाचार का पूर्व संकेत है।
परिचित- स्वप्न में किसी परिचित को देखना अनंत मैत्री और परस्पर प्रेम का सूचक है।

व्यभिचार- स्वप्न में व्यभिचार दिखना आने वाली मुसीबतों का लक्षण है।
भोजन- यदि कोई व्यक्ति अपने-आपको स्वप्न में बढि़या भोजन करते हुए देखता है, तो यह इस बात का सूचक है कि उसका स्वास्थ्य ठीक रहेगा और भाग्योन्नति होगी।