Top

ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी के साथ पीएम की बैठक आज, ये मुद्दा अहम

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी के भारत दौरे का आज आखिरी दिन है। रूहानी ने पीएम मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। जहाँ उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। पीएम मोदी आज रूहानी के साथ बैठक करेंगे जिसमे दोनों देशों के बीच कई करार होंगे। इस दौरान चाबहार बंदरगाह को लेकर भी कोई अहम संभावना है।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 17 Feb 2018 6:34 AM GMT

ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी के साथ पीएम की बैठक आज, ये मुद्दा अहम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी के भारत दौरे का आज आखिरी दिन है। रूहानी ने पीएम मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। जहाँ उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। पीएम मोदी आज रूहानी के साथ बैठक करेंगे जिसमे दोनों देशों के बीच कई करार होंगे। इस दौरान चाबहार बंदरगाह को लेकर भी कोई अहम संभावना है।

- रूहानी शनिवार को एक बिजनेस इवेंट को एड्रेस करेंगे। इसके बाद वो विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात करेंगे।

- दोपहर में वे यहां के हैदराबाद हाउस में मोदी से मुलाकात करेंगे। इसके बाद दोनों देशों के बीच समझौतों पर दस्तखत होंगे।

- शाम को रूहानी पारसी कम्युनिटी से मिलेंगे। देर रात वे अपने देश रवाना हो जाएंगे।

चाबहार होगा ट्रांजिट रूट

- रूहानी शुक्रवार को हैदराबाद की मक्का मस्जिद में नमाज अदा करने पहुंचे थे।

- उन्होंने कहा था कि ईरान का चाबहार बंदरगाह भारत के लिए (पाकिस्तान से गुजरे बगैर) ईरान और अफगानिस्तान, मध्य एशियाई देशों के साथ यूरोप तक ट्रांजिट रूट खोलेगा।

क्यों अहम् है ये बैठक?

- भारत को सस्ते तेल और गैस के लिए ईरान की जरूरत है।

- भारत दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है। एनर्जी सेक्टर में दोनों देश मिलकर बड़ी कामयाबी हासिल कर सकते हैं।

चाबहार पोर्ट:

- ये दोनों देशों का प्रोजेक्ट है। यहां से अफगानिस्तान और आगे के मुल्कों तक सामान सप्लाई किया जा सकता है बिना पाकिस्तान जाए ।

- आज इस पोर्ट को लेकर अहम् निर्णय लिया जा सकता है।

- दोनों ही देश चाहते हैं कि चाबहार का काम तय वक्त से पहले पूरा किया जाए। ईरान में इससे रोजगार बढ़ेगा। रूहानी इस पर भारत की मदद चाहेंगे।

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story