रोजा इफ्तार के बाद हो गई 150 लोगों को उल्टी-दस्त की शिकायत, हॉस्पिटल में एडमिट

Published by Published: June 6, 2017 | 11:57 am
iftar party, bahraich

बहराइच: हरवा टांड़ा गांव में सोमवार शाम को रोजा इफ्तार पार्टी का आयोजन था। क्षेत्र के 150 से अधिक लोग शामिल हुए थे। इन सभी को इफ्तार के दो घंटे बाद मिचली और दस्त की शिकायत हुई। देखते ही देखते सभी बीमार हो गए।

आनन-फानन में सभी को चिरैंयाटाड़ अस्पताल में पहुंचाया गया। यहां पर इलाज शुरू हुआ। हालांकि सभी खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं। आसपास स्वास्थ्य केंद्रों के चिकित्सक और चिकित्साकर्मी भी चिरैयाटांड़ सीएचसी भेजे गए हैं।

क्या है पूरा मामला
-हुजूरपुर थाना अंतर्गत हरवा टांड़ा गांव स्थित मदरसे में सोमवार शाम को सामूहिक रोजा इफ्तार पार्टी का आयोजन हुआ।
-क्षेत्र के लगभग 150 से अधिक लोग शामिल हुए थे।
-लेकिन रोजा इफ्तार में नाश्ता करने के दो घंटे बाद सभी को पेट में दर्द, मिचली और दस्त की शिकायत शुरू हो गई।
-इस पर गांव निवासी शब्बीर, रिजवान, इसराइल समेत 20 से अधिक लोग सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिरैयाटांड़ पहुंचे।

-कुछ देर बाद गांव में अन्य लोगों के बीमार होने की सूचना मिली। इस पर आनन फानन में एंबुलेंस भेजी गई।
-लोग एंबुलेंस के द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाए गए।
-चिरैयाटांड़ सीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. एनके सिंह ने सीएमओ डॉ. अरुणलाल को मामले से अवगत कराया।
-इस पर कैसरगंज, हुजूरपुर, फखरपुर स्वास्थ्य केंद्रों के चिकित्सक और चिकित्साकर्मियों को भी चिरैयाटांड़ सीएचसी भेजा गया।

आगे की स्लाइड में जानिए क्या है मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अरुणलाल का कहना

iftar party, bahraich

-मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. अरुणलाल ने बताया कि 150 से अधिक लोग बीमार हैं। लूजमोशन की शिकायत हुई।
-शायद बासी खाना या नाश्ता से ऐसी स्थिति बनी है।
-सीएमओ ने कहा कि चिरैयाटांड़ के प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. एनके सिंह से बात हुई है। सभी को हल्का-फुल्का पानी की कमी थी।
-कोई खतरे में नही है। फिलहाल 20 से 22 मरीज सीएचसी पर हैं।
-इलाज के बाद उन्हें भी घर भेज दिया जाएगा। उधर घटना की सूचना पाकर थानाध्यक्ष विनोद अग्निहोत्री भी सीएचसी रवाना हो गए हैं।

खजूर, समोसा व छोला का किया था सेवन
-सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिरैयाटांड़ पहुंचे यासीन, सफी, अलीशेर, जाकिर, फलीम, दुक्खी, अब्दुल, बाबू, ताजम्मुल आदि ने बताया कि इफ्तार के दौरान खजूर, समोसा व छोला का सेवन किया था।
-अनुमान लगाया जा रहा है कि समोसा व छोला शायद बासी रहा हो। जिससे फूड प्वाइजनिंग की स्थिति बनी है।

मौसम बिगड़ने से आ रही दिक्कत
-सोमवार देर शाम को मरीज जब सीएचसी पहुंचे।
-तभी जिले का मौसम अचानक बिगड़ गया।
-आंधी के साथ वर्षा शुरू हो गई है। ऐसे में काफी दिक्कत आ रही है।

आगे की स्लाइड में देखिए और भी तस्वीरें

आगे की स्लाइड में देखिए और भी तस्वीरें