बोर्ड परीक्षा में स्टूडेंट्स ने पास होने के लिए लिखी हैं ऐसी-ऐसी बातें, छूट जाएगी आपकी हंसी

Published by Published: May 16, 2017 | 1:03 pm
Modified: May 16, 2017 | 1:36 pm

आगरा: इतनी हंसी तो शायद कपिल शर्मा का शो देखने पर नहीं आएगी, जितना उत्‍तर प्रदेश में बोर्ड परीक्षा की कॉपियों के मूल्याकंन के दौरान शिक्षकों को आती होगी। बोर्ड की परीक्षा काफी टाइम पहले समाप्त हो गई थी और अब परीक्षा की कापियों का मूल्यांकन अंतिम दौर में है। बोर्ड परीक्षा के मूल्यांकन में अब नोट कम निकल रहे हैं और शायरी-कहानियां ज्यादा। पिछले साल कापियों में खूब नोट निकलते थे।

लेकिन अब कापियों में शेरों-शायरियां और पास कराने की रिक्वेस्ट्स ज्यादा निकल रही हैं। शायरियों के जरिये स्टूडेंट्स ने कॉपी चेक करने वाले एग्जामिनर को इम्प्रेस करने की कोई कवायद नहीं छोड़ी है।

-आगरा एमडी जैन इंटर कालेज में मूल्यांकन का काम अंतिम दौर में है।
-कॉपियां चेक करने वाले स्टूडेंट्स का कहना है कि मूल्यांकन में छात्र अब नोट नहीं लगा रहे हैं।
-वे ज्यादातर शायरी, कहानी और इमोशनल सेंटेंस लिख रहे हैं। जिससे परीक्षक उनको पास कर दे।

कॉपियों में मिलने वाले नोट के मामलों में मूल्याकंन कर रहे शिक्षकों पर कुछ असर पड़ता हो या नहीं, लेकिन उनका मनोरंजन जरूर हो जाता है। वहीं कुछ शिक्षकों का कहना है कि अच्‍छे नंबर के लिए बच्‍चों हर तरह से उनकी तारीफ करते हैं और कहते हैं कि अगर हम उन्‍हें पास करेंगे, तो भगवान हमें और तरक्‍की देगा।