अब यूपी के गांव भी होंगे कुपोषण मुक्त, इन 39 जिलों में चलेगा अभियान

यूपी के 39 जिलों के गांवों को कुपोषण मुक्‍त गांव घोषित करने के लिए अभियान चलाया जाएगा। गांवों में छह महीने से तीन साल तक की उम्र वर्ग के कमजोर बच्‍चों का मेडिकल टेस्ट होगा।

Published by tiwarishalini Published: September 23, 2017 | 8:33 pm
Modified: September 23, 2017 | 8:41 pm
अब यूपी के गांव भी होंगे कुपोषण मुक्त, इन 39 जिलों में चलेगा अभियान

लखनऊ: यूपी के 39 जिलों के गांवों को कुपोषण मुक्‍त गांव घोषित करने के लिए अभियान चलाया जाएगा। गांवों में छह महीने से तीन साल तक की उम्र वर्ग के कमजोर बच्‍चों का मेडिकल टेस्ट होगा।  ग्राम, ब्लॉक और जिला स्‍तर पर माइक्रो प्‍लान बनाकर अफसर सरकार की मंशा को पूरा करेंगे। यह अभियान शाबरी संकल्‍प योजना के तहत चलेगा।

ऐसे होगा काम
-इन सभी 39 जिलों में विभागीय नोडल अफसर नामित होंगे।
-इन्‍हें कुपोषित गांव को एडाप्ट करना होगा।
-जिला, गांव और ब्लॉक लेवल पर कामों की मॉनिटरिंग होगी।
-यह काम पूरा होने के बाद थर्ड पार्टी इंस्‍पेकशन होगा।
-चिन्हित जिलों में शुद्ध पेयजल उपलब्‍ध कराया जाएगा।
-कुपोषण से बच्चों को बचाने के लिए अभिभावकों को जागरूक किया जाएगा।

यह भी पढ़ें … देश की समस्या का तभी होगा समाधान, जब नहीं बनेगा कुपोषण व भुखमरी चुनावी मुद्दा

यह जिले घोषित होंगे कुपोषण मुक्त
मैनपुरी
अलीगढ़
एटा
कासगंज
फतेहपुर
कौशाम्बी
बदायूं
पीलीभीत
शाहजहांपुर
बांदा
चित्रकूट
हमीरपुर
बाराबंकी
फैजाबाद
बहराइच
बलरामपुर
गोंडा
श्रावस्ती
आजमगढ
महराजगंज
कुशीनगर
बस्ती
संतकबीर नगर
सिद्धार्थ नगर
इटावा
फर्रूखाबाद
कन्नौज
कानपुर देहात
हरदोई
लखीमपुर खीरी
रायबरेली
सीतापुर
बुलंदशहर
भदोही
मिर्जापुर
चंदौली
गाजीपुर
जौनपुर

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App