पाक को दोस्त चीन से भी जोर का झटका, कहा- कश्मीर मसला बातचीत से सुलझाए

Published by Published: September 23, 2016 | 12:39 am
Modified: September 23, 2016 | 5:09 am
कश्मीर

बीजिंगः गुरुवार को पाकिस्तान को अपने सबसे भरोसेमंद दोस्त चीन से भी जोर का झटका लगा। चीन ने पाकिस्तानी मीडिया की उन खबरों को गलत बताया, जिनमें कहा गया था कि पीएम नवाज शरीफ के साथ बैठक में चीन के पीएम ने कश्मीर मुद्दे पर पूरी तरह समर्थन दिया है।

चीन ने क्या कहा?
चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ल्यू कांग से उनके पीएम ली केकियांग की ओर से नवाज को कश्मीर पर समर्थन देने के बारे में पूछा गया था। इस पर ल्यू ने कहा कि न्यूयॉर्क में ली केकियांग 21 सितंबर को नवाज शरीफ से मिले थे। उन्होंने द्विपक्षीय संबंधों, अंतरराष्ट्रीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की। ल्यू ने साफ कहा कि कश्मीर पर चीन का रुख पहले जैसा है। हम उम्मीद करते हैं कि भारत और पाकिस्तान बातचीत से इस मुद्दे का हल निकालेंगे।

यह भी पढ़ें…भारत से जंग की तैयारी में जुटा पाक, इस्लामाबाद के आसमान पर F-16 से युद्धाभ्यास

दुनियाभर के नेताओं ने दी थी नसीहत
बता दें कि इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, विदेश मंत्री जॉन केरी, ब्रिटिश विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन, फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने नवाज शरीफ को आतंकवाद खत्म करने की नसीहत दी थी। पाकिस्तान को इसके बाद चीन से समर्थन की उम्मीद थी। हालांकि, चीन ने उरी में सेना के कैंप पर हुए हमले को गलत बताया था। गुरुवार को उसने भी पाकिस्तान के कश्मीर राग से पल्ला झाड़ लिया।

यह भी पढ़ें…UN में नवाज शरीफ को करारा जवाब, भारत ने कहा- आतंकवाद की पाठशाला है पाक

यह भी पढ़ें…मीडिया का दावा- सेना ने LoC पार कर आतंकियों के कैंप किए नष्ट, मारे 20 दहशतगर्द