योगी के सामने बेस्ट प्रेजेंटेशन देने में जुटा गृह विभाग, पुलिस रिफॉर्म्स के कई मुद्दे होंगे शामिल

उत्तर प्रदेश का गृह विभाग इन दिनों बहुत तेजी से अपना प्रजेंटेशन बनाने में लगा हुआ है। सीएम योगी आदित्यनाथ को ये प्रजेंटेशन 19 अप्रैल दिखाया जाएगा।

UP: 12 PCS अधिकारियों ने CM को लिखी चिट्ठी, नीली बत्ती इस्तेमाल करने देने की लगाई गुहार

दुर्गेश उपाध्याय

लखनऊ: उत्तर प्रदेश का गृह विभाग इन दिनों बहुत तेजी से अपना प्रजेंटेशन बनाने में लगा हुआ है। सीएम योगी आदित्यनाथ को ये प्रजेंटेशन 19 अप्रैल दिखाया जाएगा।

इस बारे में पूछने पर प्रमुख सचिव गृह देबाशीष पांडा ने बताया कि “प्रजेंटेशन का काम चल रहा है। 19 अप्रैल को सीएम योगी आदित्यनाथ के समक्ष इसको रखा जाएगा। इस प्रजेंटेशन में ह्यूमन रिसोर्सेज़, इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे मुद्दों को शामिल किया जाएगा।” ये पूछे जाने पर कि पुलिस रिफॉर्म्स को लेकर भी कुछ सुझाव सीएम के सामने रखे जाएंगे इस पर पांडा का कहना था कि “जरुर, दरअसल, ये सब भी पुलिस रिफार्म्स का ही एक हिस्सा हैं।”

बता दें, कि इस प्रजेंटेशन को बनाने के लिए प्रमुख सचिव गृह देबाशीष पांडा और डीजीपी जावीद अहमद व्यक्तिगत रुप से जुटे हुए हैं। यहां तक कि जो अफसर छुट्टियों पर थे उन्हें भी बुला लिया गया है। छुट्टियों के दिन भी ये तमाम आला अधिकारी इस काम में जुटे रहे।

प्रजेंटेशन को बनाने में किसी तरह की कोई कसर न रह जाए और कोई बिंदु छूट न जाए इस बात का खास ख्याल रखा जा रहा है। सूत्रों की मानें, तो प्रजेंटेशन में पिछले पांच सालों में किस मद मे कितनी रकम खर्च हुई, कितनी गाड़ियां खरीदी गईं, कितने केस दर्ज हुए ये सब जानकारियां जुटाकर डाली जा रही हैं। गृह विभाग ने रेलवे, सतर्कता, अभिसूचना, एसटीएफ, जेल, तकनीकी सेवा जैसे प्रमुख शाखाओं से उनकी उपलब्धियां और सुझाव मांगे हैं।.

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App