GST है ‘ग्रेट सेल्फिश टैक्स’ नोटबंदी ‘आपदा’, लगाओ ब्लैक DP : ममता

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने सोमवार को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसीटी) को ‘ग्रेट सेल्फिश टैक्स’ के रूप में परिभाषित किया।

Published by tiwarishalini Published: November 6, 2017 | 5:03 pm
Modified: November 6, 2017 | 5:06 pm

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने सोमवार को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसीटी) को ‘ग्रेट सेल्फिश टैक्स’ के रूप में परिभाषित किया। उन्होंने कहा कि इसका प्रयोग लोगों को तंग करने और देश की अर्थव्यवस्था को तबाह करने के लिए जा रहा है।

उन्होंने नोटबंदी को भी एक आपदा के रूप में परिभाषित किया और ट्विटर उपयोगकर्ताओं से आग्रह किया कि वे नोटबंदी के खिलाफ अपना विरोध जताने के लिए अपनी डिस्पले पिक्चर को काले रंग से बदल दें।

यह भी पढ़ें … जश्न-ए-नोटबंदी ! जेटली बोले- BJP 8 नवंबर को एंटी ब्लैकमनी डे मनाएगी

ममता ने ट्वीट कर कहा, “ग्रेट सेल्फिश टैक्स लोगों को परेशान करने के लिए लगाया गया है, नौकरियां छीनने के लिए। व्यवसाय को चोट पहुंचाने के लिए। अर्थव्यवस्था को खत्म करने के लिए। जीएसटी से निपनटने में सरकार पूरे तरीके से विफल हो चुकी है।”

ममता ने कहा, “नोटबंदी एक आपदा है। 8 नवंबर के काले दिवस पर देश की अर्थव्यवस्था को तबाह करने वाले घोटाले के खिलाफ विरोध किया जाएगा। साथ ही हम लोगों को इसका विरोध करते हुए अपनी ट्विटर डीपी का रंग काला कर देना चाहिए।”

बनर्जी ने सोमवार को अपने ट्विटर अकाउंट की डीपी का रंग काला कर दिया। तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने अपनी पार्टी के नेताओं को नोटबंदी का एक साल पूरा होने पर 8 नवंबर को काला दिवस मनाने का निर्देश दिया है।

–आईएएनएस