पहली बार पोलिंग बूथों पर वेबकास्टिंग निगरानी, रहेगी आयोग की सीधी नजर

Published by November 11, 2017 | 12:41 pm
पहली बार पोलिंग बूथों पर वेबकास्टिंग निगरानी, रहेगी आयोग की सीधी नजर

गोरखपुर: नगर निकाय चुनाव अति संवेदनशील पोलिंग बूथों की निगरानी के लिए वेबकास्टिंग कैमरे लगाए जाएंगे। निकाय चुनाव में यह व्यवस्था पहली बार होने जा रहा है। नगर निगम क्षेत्र के साथ जिले की 8 और नगर पंचायतों में कुछ बूथों पर लाइव वेबकास्टिंग की व्यवस्था की जा रही है।

यह भी पढ़ें: लोकसभा उपचुनाव: गोरखपुर सीट से BJP के खिलाफ स्वामी चक्रपाणी उतरेंगे मैदान में

इसके जरिए जिला मुख्यालय पर बनाए गए कंट्रोल रूम व राज्य निर्वाचन आयोग के कंट्रोल रूम से निगरानी हो सकेगी। इससे लाइव कवरेज भी देखा जा सकेगा। अभी तक यह व्यवस्था लोकसभा व विधानसभा चुनाव में होती रही है।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर–टिकट बंटवारे को लेकर सपा में घमासान, सपा कार्यालय में हंगामा

क्या है वेबकास्टिंग:
वेबकास्टिंग हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्शन पर चलता है। इसके जरिए मोबाइल लैपटॉप डेस्कटॉप पर घर बैठे सैकड़ों किलोमीटर दूर किसी भी जगह का लाइव नजारा देखा जा सकता है। इसके लिए हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्शन होना जरूरी है जबकि कंप्यूटर पर इसको चलाने वाला वीडियो सॉफ्टवेयर भी होना चाहिए। यह ठीक उसी तरह काम करेगा, जैसे किसी फिल्म को देखने के लिए YouTube काम करता है।

यह भी पढ़ें: अयोध्या से निकाय चुनाव के प्रचार का आगाज करेंगे CM योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर में 78 पोलिंग बूथों पर होगी निगरानी:
गोरखपुर में 78 पोलिंग बूथ की निगरानी वेबकास्टिंग के जरिए होगी। इनमें नगर निगम क्षेत्र के 68 और 8 नगर पंचायत क्षेत्रों के 10 पोलिंग बूथों पर यह व्यवस्था होगी। जिले में कुल पोलिंग बूथों की संख्या 863 है, जिनमें नगर निगम की 718 जबकि नगर पंचायत की 145 बूथ बनाए गए हैं।