OMG: सिर्फ 5 साल की उम्र में बच्ची बन गई मां, शक सगे बाप पर

जब माता-पिता बनते हैं, तो हमें सबसे ज्यादा खुशी होती। शायद ही कोई ऐसा होता होगा, जिसे मां-बाप बनने पर खुशी नहीं होती होगी। लोग बच्चे तब पैदा करते हैं, जब वह भावनात्मक, शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार हों

लखनऊ: जब माता-पिता बनते हैं, तो हमें सबसे ज्यादा खुशी होती। शायद ही कोई ऐसा होता होगा, जिसे मां-बाप बनने पर खुशी नहीं होती होगी। लोग बच्चे तब पैदा करते हैं, जब वह भावनात्मक, शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार हों, लेकिन बहुत सारी अलग-अलग चीजों की तरह ही माता-पिता बनने का सुख भी किसी-किसी को जल्दी मिल जाता है।

लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया की सबसे छोटी मां ने सिर्फ 5 साल की उम्र में बच्चे को जन्म दिया था। आपके लिए यकीन करना मुश्किल होगा, लेकिन सच्चाई यही है कि दुनिया की सबसे छोटी मां ने महज पांच साल की उम्र में ही मां बन गी थी।

लीना मेडिना का जन्म 27 सितंबर 1933 को हुआ था। वह पेरू के एक छोटे से गांव तिकरापो में जन्मी थीं। लीना दुनिया की सबसे कम उम्र की डॉक्यूमेंटेड मां हैं। लीना एक रेयर कंडिशन precocious puberty के साथ जन्मी थीं।

यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें जननांग बहुत जल्दी विकसित हो जाते हैं। आमतौर पर लड़कियों में जननांगों का विकास 10 साल की उम्र में शुरू होता है और लड़कों में 11-12 साल में, लेकिन लीना को आठवें महीने से ही पीरियड्स होना शुरू हो गए थे। चार साल की उम्र में ही उनके ब्रेस्ट पूरी तरह विकसित हो गए।

यह भी पढ़ें…ज्वालामुखी के बेहतर नजारे देखने के चक्कर में 70 फीट गड्ढे में गिरा सैनिक, फिर हुआ ये

लीना जब पांच साल की हुईं तो अचानक उनका पेट बढ़ने लगा। उनकी मां विक्टोरिया डर गईं और उनको लगा कि उनकी बेटी के पेट में ट्यूमर हो गया है या उनकी बेटी पर किसी बुरी आत्मा का साया है। वो लीना को लेकर अस्पताल गईं। लीना की जब जांच रिपोर्ट आई तो उनकी मां के साथ-साथ पूरी दुनिया हैरान रह गई।

पांच साल की बच्ची, जो खुद अपनी मां के हाथों से खाना खाती थी, वह गर्भवती थी। जिस समय लीना अस्पताल पहुंचीं वो आठ माह की गर्भवती थीं।

यह भी पढ़ें…विदेश में रह रहे भारतीय मूल के लोगों को गृह मंत्रालय ‘black list’ से हटाया, ये है मामला

14 मई 1939 को लीना ने एक स्वस्थ और लगभग छह पौंड के वजन वाले बच्चे को जन्म दिया। मां के जननांग का आकार छोटा था इसलिए सर्जरी से ही उन्होंने बच्चे को जन्म दिया। उस समय लीना की उम्र पांच साल सात महीने और 17 दिन थी। लीना जिस दिन मां बनी थीं उस दिन मडर्स डे था।

लीना के डॉक्टर के सम्मान में बच्चे का नाम भी गेराल्डो रखा गया। ये बच्चा 40 वर्ष की उम्र तक जिंदा रहा लेकिन बोन मैरो की बीमारी हो जाने की वजह से 1979 में उसकी मौत हो गई। कई साल तक तो गेराल्डो, लीना को अपनी बहन ही मानते रहे, लेकिन जब वो 10 साल के हुए तो उन्हें अपनी मां की सच्चाई पता चली।

यह भी पढ़ें…यहां GOSSIP करने पर बैन, नहीं तो लगेगा जुर्माना, करेंगे शहर की सफाई, जाएंगे जेल

लीना ने कभी भी अपने बच्चे के पिता का नाम नहीं बताया। लीना की हालत को देखते हुए उनके पिता को ही आरोपी माना गया. वो गिरफ्तार भी हुए लेकिन सुबूतों के अभाव में उन्हें छोड़ दिया गया। वहीं लीना से जब भी इस बाबत पूछा जाता वो शांत हो जाती और कुछ भी नहीं बोलती। मानो उसे कुछ पता ही नहीं…याद ही नहीं।