यहां 10 साल से नहीं हुआ है लड़के का जन्म, सिर्फ होता है लड़की का जन्म, जानिए क्यों?

आज के वक्त में हर दंपत्ति की चाहत होती है कि उसे एक संतान हो , जो मम्मी-पापा कहकर पुकारे, लेकिन इसमें आज के समय में ये चाहत नहीं कि लड़की हो या लड़का, दोनों को माता-पिता से सामान प्यार मिलता है। लेकिन एक ऐसा गांव है जहां सिर्फ लड़की का ही जन्म होता है।

जयपुर: भारत में बेटी के जन्म पर बहुत कम घरों में खुशियाँ मनाई जाती है. कई घरो में मातम मनाने जैसा माहौल देखने को मिलता है।आज के वक्त में हर दंपत्ति की चाहत होती है कि उसे एक संतान हो , जो मम्मी-पापा कहकर पुकारे, लेकिन इसमें आज के समय में ये चाहत नहीं कि लड़की हो या लड़का, दोनों को माता-पिता से सामान प्यार मिलता है। लेकिन एक ऐसा गांव है जहां सिर्फ लड़की का ही जन्म होता है।

पोलैंड और चेक रिपब्लिक की सीमा पर बसे इस अनोखे गांव में, जहां केवल लडकियां ही पैदा होती हैं। इसी के चलते यहां लड़का पैदा होने पर इनाम की घोषणा भी की गई हैं। इस गांव का नाम है मिजेस्के ओद्रजेनस्की। यहां आखिरी बार साल 2010 में एक लड़के का जन्म हुआ था, लेकिन उसके बाद लड़का और उसके परिवार वाले गांव छोड़कर दूसरी जगह चले गए। यहां की आबादी फिलहाल 300 के करीब है, जिसमें लड़कियों और महिलाओं की संख्या ज्यादा है और लड़के न के बराबर है।

जम्मू-कश्मीर पर ये क्या बोल गई पाकिस्तानी ऐक्ट्रेस वीना मलिक

इस गांव में फिलहाल जो सबसे छोटा लड़का है, वह 12 साल है। खबरों के अनुसार, यहां लड़कियाौं का जन्म ज्यादा होता हैं, लेकिन लड़कों का जन्म बहुत कम ना के बराबर है। यही वजह है कि यहां के मेयर ने ये एलान किया है कि जिसके घर बेटा पैदा होगा, उसे इनाम दिया जाएगा। गांव वालों के मुताबिक, वो इसकी वजह नहीं जानते कि आखिर क्यों यहां सिर्फ लड़कियां ही पैदा होती हैं। हालांकि पोलैंड की राजधानी वारसॉ के एक विश्वविद्यालय ने इस रहस्य को जानने के लिए रिसर्च शुरू कर दिया है।

वारसॉ की मेडिकल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर का कहना है कि गांव में लड़के पैदा नहीं हो रहे, यह अनोखी घटना तो है ही, साथ ही चिंता विषय भी है। उनका कहना है कि इस रहस्य को सुलझाना आसान नहीं है। इसके लिए गांव के सभी पुराने रिकॉर्ड देखने पड़ेंगे।

जम्मू-कश्मीर पर बुरा फसीं रणबीर की ये गर्लफ्रेंड, लोगों ने दिया ऐसे जवाब