देश में सबसे ज्यादा प्रदूषित है ये शहर, बाकियों की स्थिति भी खराब

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की हवा की गुणवत्ता तेजी से घटते हुए बहुत खराब स्तर की ओर बढ़ रही है। इस बात का खुलासा हाल ही में नासा के उपग्रह से प्राप्त उत्तर भारत की तस्वीरों से हुआ है। इस जानकारी के मिलने के बाद दिल्ली के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने पराली दहन तत्काल रोकने की मांग की थी।

यह भी पढ़ें: साधु ने प्रेम प्रसंग के झूठे आरोपों से परेशान होकर काटा अपना Private Part

वहीं, अब केंद्रीय प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड (सीपीसीबी) ने कुछ आकड़े जारी किए हैं, जिनके अनुसार, आने वाले दिनों में पराली जलाने और हवा की गति कम होने के कारण हालात और भी खराब हो सकते हैं। सीपीसीबी ने हाल ही में वायु प्रदूषण से प्रभावित देशभर के 64 शहरों की लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में सबसे ऊपर हरियाणा का भिवाड़ी है।

यह भी पढ़ें: चीन की कोयला खदान में 22 श्रमिक फंसे, बचाव अभियान जारी

भिवाड़ी का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 434 के स्तर पर है, जबकि राजधानी दिल्ली 50 अंकों की बढ़ोतरी के साथ 326 पर रही। बता दें, एनसीआर में गुरुग्राम की स्थिति बदतर है। यही नहीं, यूपी के भी कई राज्यों में सांस लेना मुश्किल है। उत्तर प्रदेश के ज्यादातर शहर वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर से जूझ रहे हैं।

यह भी पढ़ें: पुलिस स्मृति दिवस के मौके पर शहीद हुए पुलिसजनों को सीएम ने किया याद

इसमें बागपत (320), कानपुर (289) और मुजफ्फरनगर (303) शामिल हैं। यही नहीं, राजधानी लखनऊ भी इस मामले में पीछे नहीं है। यहां भी वायु की गुणवत्ता बेहद खराब रही। इनके अलावा फरीदाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद में भी वायु की गुणवत्ता ख़राब स्थिति में है।

वायु गुणवत्ता सूचकांक

0-50       अच्छा

50-100     संतोषजनक

101-200   मध्यम

201-300   खराब

301-400   बेहद खराब

401-500   खतरनाक