BJP जिलाध्यक्ष के बेटे-वनकर्मियों में मारपीट, विवाद के बाद डिप्टी रेंजर को हटाया गया

Published by aman Published: June 16, 2017 | 8:03 pm
Modified: June 16, 2017 | 8:04 pm
BJP जिलाध्यक्ष के बेटे-वनकर्मियों में मारपीट, विवाद के बाद डिप्टी रेंजर को हटाया गया

पीलीभीत: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) जिलाध्यक्ष के बेटे और उसके साथियों के साथ पीलीभीत टाइगर रिज़र्व में वनकर्मियों ने जमकर मारपीट की। बीजेपी अध्यक्ष के बेटे पर आरोप है कि उसने शराब के नशे में वहां तैनात वनकर्मियों से भिड़ गया। गुस्साए वनकर्मियों ने उसकी व उसके तीन दोस्तों की जमकर धुनाई कर दी। दूसरी तरफ, बीजेपी नेता ने डिप्टी रेंजर सहित कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है।

उधर, वन विभाग ने भी बीजेपी जिलाध्यक्ष सुरेश गंगवार के बेटे और उसके तीन दोस्तों के खिलाफ फॉरेस्ट एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है। साथ ही मारपीट और सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने के एक अन्य मुकदमे की तहरीर थाने में दी है। उस पर भी मुकदमा दर्ज हो गया है। इस घटना के बाद वन विभाग ने आरोपी डिप्टी रेंजर को हटा दिया है। मामला माधोटांडा थाना इलाके के पर्यटन स्थल चूका स्पॉट का है।

आगे की स्लाइड में पढ़ें पूरी खबर …

क्या है मामला?
बीजेपी जिलाध्यक्ष सुरेश गंगवार का बेटा दक्ष गुरुवार की शाम अपने तीन दोस्तों के साथ पीलीभीत टाइगर रिज़र्व के चूका स्पॉट घूमने गया था। वह अनधिकृत तौर पर टाइगर रिज़र्व में घुसकर चूका पहुंचा और दोस्तों के साथ बैठकर शराब पीने लगा। वन कर्मियों ने उसे ऐसा करने से मना किया। इसके बाद नशे में धुत बीजेपी नेता का बेटा वहां स्थित कैंटीन कर्मियों से जा भिड़ा। इस पर वनकर्मियों को भी गुस्सा आ गया। उन्होंने जिलाध्यक्ष के बेटे और उसके साथियों की जमकर पिटाई कर दी।

एक-दूसरे के खिलाफ दर्ज कराया मामला
वन विभाग ने आरोपी नेता के पुत्र व उसके साथियों के खिलाफ 27 फॉरेस्ट एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया।बीजेपी जिलाध्यक्ष ने भी अपने पुत्र के दोस्तों की तरफ से माधोटांडा थाने में डिप्टी रेंजर व कुछ अन्य लोगों खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज करवाया है। वहां तैनात डिप्टी रेंजर मुबीन आरिफ ने भी सरकारी कार्य में बाधा पहुचाने मारपीट करने का मुकदमा थाने में दर्ज करवाया है। डीएफओ टाइगर रिज़र्व कैलाश प्रकाश ने बताया कि ‘आरोपी डिप्टी रेंजर को वहां से हटा दियूरिया रेंज में तैनात कर दिया है। पुलिस पूरे मामले में जांच में जुटी है।’

रेंजर के झूठे आरोप के मिल रहे सबूत
बीजेपी अध्यक्ष सुरेश गंगवार ने आरोप लगाया कि हटाया गया डिप्टी रेंजर की कार्य प्रणाली शुरू से ही विवादित रही है। इसकी पिछले लंबे समय से वहां तैनाती थी। बहेड़ी, नवाबगंज के विधायक व पूरनपुर के एक सपा नेता से भी हाल ही में उसके द्वारा अभद्रता व मारपीट की जा चुकी है। बीजेपी नेता ने आरोप लगाया कि डिप्टी रेंजर मोवीन वहां अपनी मनमानी चला रहा था। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि उनका पुत्र अपने शिक्षकों के साथ था। साथ ही वह डीएफओ से अनुमति लेकर चूका स्पॉट गया था। इसलिए बिना अनुमति होना और शराब पीकर मारपीट करने का आरोप पूर्णतः निराधार है। डीएफओ ने भी अनुमति की पुष्टि की है।

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App