मकर संक्रांति: लखनऊ के हाट, घाट और बाजार सब हुए गुलज़ार

मकर संक्रांति के एक दिन पहले से ही शहर के प्रमुख बाजार कड़ाके की ठंड में भी गुलजार दिखे। गोमती के घाटों पर भी साफ़ सफाई होती दिखाई दी। मकर संक्रांति पर आने वाली भीड़ को रोकने के लिए पुलिस बैरिकेडिंग की व्यवस्था दिखाई दी। लोहड़ी और मकर संक्रांति के लिए लखन

Published by Anoop Ojha Published: January 14, 2018 | 8:10 am
Modified: January 14, 2018 | 8:11 am
मकर संक्रांति: लखनऊ के हाट, घाट और बाजार सब हुए गुलज़ार

मकर संक्रांति: लखनऊ के हाट, घाट और बाजार सब हुए गुलज़ार

लखनऊ: मकर संक्रांति के एक दिन पहले से ही शहर के प्रमुख बाजार कड़ाके की ठंड में भी गुलजार दिखे। गोमती के घाटों पर भी साफ़ सफाई होती दिखाई दी। मकर संक्रांति पर आने वाली भीड़ को रोकने के लिए पुलिस बैरिकेडिंग की व्यवस्था दिखाई दी। लोहड़ी और मकर संक्रांति के लिए लखनऊ के बाजारों में जबरदस्त रौनक दिखाई दी।न्यूज ट्रैक टीम ने गोमती के घाटों और प्रमुख बाजारों का जायजा लिया।

रंग बिरंगे पतंग से सजे बाज़ार
लखनऊ के हजरतगंज, नरही, अलीगंज, निशातगंत, महानगर डंडहिया बाजार, गोमती नगर सहित अन्य बाज़ारों में रंग बिरंगे पतंग सज गए हैं। एक दुकानदार ने बताया की इस बार चाइनीज मांझा बाजार में नहीं है। वही पतंगों पर मोदी और योगी की तस्वीरें छायी हुई हैं। दुकानदारों ने बताया की मोदी और योगी की तस्वीरों वाली पतंग की डिमांड ज्यादा है। इसके आलावा भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाडियों और बॉलिवुड सितारों के तस्वीर वाली पतंगे भी खूब पसंद की जा रही हैं। जहां तक रंग की बात है तो नीला, लाल, हरे और पिले रंगों के आलावा भगवा रंग या केसरिया प्लास्टिक की बनी पतंगें भी जमकर बिक रही हैं।

मकर संक्रांति: लखनऊ के हाट, घाट और बाजार सब हुए गुलज़ार
मकर संक्रांति: लखनऊ के हाट, घाट और बाजार सब हुए गुलज़ार

ज गया गजक और लाइ-चिवड़े का बाज़ार
सड़क की पटरियों पर गुड़, चीनी से बनी खाद्य सामग्रीे खरीदने के लिए ग्राहकाें की भीड़ देर शाम तक डटी रही। दूकान पर बिकने को सजे ढूंढा, गजक, लाई- चिउड़ा और गजक सहित तरह-तरह के पट्टी की जमकर बिक्री हुई, जिससे दूकानदार गदगद दिखे। नगर के प्रमुख बाजाराें में गुड़, चीनी से बनी खाद्य सामग्री सहित लाई, लावा, चिउड़ा, गट्टा, गजक आदि की खरीदारी करने में लोग मशगूल हो गए हैं। बाजार में तिल पट्टी 130-150 रुपये किलो, ढूंढा 50-90, गुड़, चीनी से बनी बादाम पट्टी 100-130, लाई-40-45, चूड़ा 35-50, गजक 140-160, रामदाना 120-140, गट्टा 80-90, गुड़ का सेव 70-90 रुपये प्रति किलो के हिसाब से बिक रहा है।

घाटों पर हुई सफाई, सज गयी दुकाने
गोमती नदी के किनारे बने घाटों पर भी शनिवार को रौनक देखी गयी. रामलीला मैदान घाट सहित हनुमान पुल घाट पर सफाई की गई है। इन जगहों पर संक्रांति मेले के लिए अस्थायी दुकाने भी सज गयी हैं। इसमें बच्चों के लिए खिलौने, पतंग, फल और खाने पीने की दुकाने ज्यादा हैं। एक दूकान लगाने वाले ने बताया संक्रांति पर यहाँ हजारों लोग अपने परिवार के साथ आते हैं जिससे हमारी अच्छी बिक्री होती है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App