UP: जब पत्रकार ने घूसखोरी पर क्लिक किया कैमरा, पुलिसवालों का फूटा गुस्सा

यूपी में आए दिन पुलिस वालों की दंबंगई सरेराह देखने को मिलती है। ऐसा ही मामला मुरादाबाद के थाना मैनाठेर क्षेत्र का है। जहां पुलिस ने एक दैनिक अखबार से जुड़े पत्रकार के साथ अभद्रता और मारपीट करने का मामला सामने आया हैं। पीड़ित पत्रकार ने आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ थाना मैनाठेर में तहरीर दी दी हैं।

Published by priyankajoshi Published: February 12, 2018 | 12:26 pm
Modified: February 12, 2018 | 1:12 pm

मुरादाबाद: यूपी में आए दिन पुलिसवालों की दंबंगई सरेराह देखने को मिलती है। ऐसा ही मामला मुरादाबाद के थाना मैनाठेर क्षेत्र का है। जहां पुलिस ने एक दैनिक अखबार से जुड़े पत्रकार के साथ अभद्रता और मारपीट करने का मामला सामने आया हैं। पीड़ित पत्रकार ने आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ थाना मैनाठेर में तहरीर दी हैं।

क्या था पूरा मामला?
दरअसल, मैनाठेर क्षेत्र से रिपोर्टिंग करने वाले पत्रकार मोहम्मद आरिफ को सूचना मिली कि महमूदपुर रोड पर कोई एक्सीडेंट हो गया हैं। इसी घटना को कवर करने के लिए पीड़ित पत्रकार मौके पर पहुंचा, लेकिन हादसा मामूली था, इसलिए दोनों पक्षो ने बातचीत के बाद मामला सुलझा लिया। किसी अन्य व्यक्ति द्वारा हादसे की सूचना देने पर डायल 100 मौके पर पहुंची और एक्सिडेंट के दोनों पक्षो पर पुलिसिया रॉब गांठते हुए उनसे पैसे की उगाई करने लगी। वहीं दूर खड़े पत्रकार आरिफ ने पूरी घटना को अपने कैमरे में कैद कर लिया, जिससे पुलिस कर्मी सकते में आ गए। उन्होंने पत्रकार के साथ अभद्रता शुरू कर दी और उसका कैमरा छीन कर जमीन पर पटक दिया। फिर पुलिसवाले पत्रकार को मारते-पीटते हुए गाड़ी में ले जाने लगे। किसी तरह आसपास खड़े लोगों ने बड़ी मुश्किल से उसे पुलिस के चंगुल से छुड़ाया।

पीड़ित पत्रकार मोहम्मद आरिफ के अनुसार, उसने खुद को संभालते हुए पूरी घटना के संबंध में पहले अपने कार्यालय को अवगत कराया। फिर एक तहरीर इंस्पेक्टर मैनाठेर को दी गई है, जिसमें एक आरोपी सिपाही का नाम भी खोला गया हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App