सपा-कांग्रेस प्रत्याशी पर महिला नेत्री ने लगाया अभद्रता करने का आरोप, बोली-सारे कांग्रेसी चोर हैं

Published by Published: February 22, 2017 | 10:04 am
balrampur

balrampur

बलरामपुर: विधानसभा चुनाव का प्रेशर किस कदर प्रत्याशियों पर हावी होता है, इसका ताजा उदहारण बलरामपुर सदर विधानसभा से कांग्रेस-समाजवादी पार्टी गठबंधन के प्रत्याशी की मीटिंग में देखने को मिला। जहां महिला जिलाध्यक्ष से प्रत्याशी को यह पूछना भारी पड़ गया कि आप आगामी दिनों में होने वाले राहुल गांधी के कार्यक्रम में कितनी महिलाओं की भीड़ इकट्ठा कर सकती हैं?

महिला जिलाध्यक्ष ने मीटिंग में प्रत्याशी को खरी-खोटी सुनाते हुए कहा कि जब भीड़ इकट्ठा करनी होती है, तो महिलाओं का उपयोग किया जाता है और अन्य किसी काम में उनकी उपेक्षा की जाती है। जिसके बाद सदर विधानसभा से कांग्रेस के प्रत्याशी शिवलाल ने जिलाध्यक्ष को बाहर जाने का आदेश दे दिया। इसके बाद महिला जिलाध्यक्ष भड़क गई और जमकर हंगामा किया।

आगे की स्लाइड में जानिए क्या क्या है यह पूरा मामला

balrampur

मामला सदर विधानसभा क्षेत्र का है, जहां कांग्रेस व समाजवादी पार्टी गठबंधन के घोषित प्रत्याशी शिवलाल ने कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों की एक मीटिंग बुलाई थी। मीटिंग में आगामी दिनों में होने वाली राहुल गांधी, गुलाम नबी आजाद जैसे बड़े नेताओं की रैली में भीड़ जुटाने व व्यवस्था पर चर्चा की जानी थी। चर्चा के दौरान पार्टी प्रत्याशी शिवलाल ने उपस्थित महिला जिलाध्यक्ष से रैली में भीड़ जुटाने के लिए कुल कितनी महिलाओं को इकट्ठा कर लेने का सवाल पूछ लिया?

सवाल पूछते महिला जिलाध्यक्ष प्रत्याशी शिवलाल को उत्तर देते हुए कहा कि महिलाओं को बस रैलियों में और जहां भीड़ दिखानी होती है, वहीं तक पूछा जाता है, उसके बाद महिलाओं की केवल उपेक्षा की जाती है। जिसके बाद शिवलाल ने उन्हें तुरंत मीटिंग छोड़ कर बाहर जाने का आदेश दे दिया। आदेश के बाद भड़की जिलाध्यक्ष रेशम सिंह ने मीटिंग स्थल के बाहर हंगामा शुरू कर दिया। हंगामा बढ़ता देख प्रशासन को सूचना दी गई, जिसके चलते मौके पर भारी पुलिस बल की तैनाती करा दी गई।

आगे की स्लाइड में जानिए इस हंगामे से जुड़ी बातें

balrampur

कांग्रेस महिला जिलाध्यक्ष ने पत्रकारों से मुखातिब होते हुए बताया कि पार्टी पदाधिकारियों की मीटिंग चल रही थी, जिसमें महिलाओं की संख्या को लेकर मुझसे सवाल किया गया। मैंने कहा मैं किसी का ठेका नहीं लेती हूं। लेकिन जितनी हो सके, उतनी महिलाओं को रैली में लाया जाएगा। इसके बाद शिवलाल ने मुझे मीटिंग से बाहर जाने को कहा। जिलाध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी की औकात नहीं है कि वह मुझे इस तरह से कहे। अगर कांग्रेस में महिलाओं का सम्मान ऐसे ही होता है, तो कांग्रेस से मेरा कोई नाता नहीं है। सारे कांग्रेसी चोर हैं, इस विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी का प्रचार नहीं किया जाएगा।

आगे की स्लाइड में जानिए क्या है कांग्रेस प्रत्याशी का कहना

balrampur

पूरे मामले पर जब कांग्रेस प्रत्याशी से उनका पक्ष जानने का प्रयास किया गया, तो उन्होंने कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App