बाराबंकी में स्प्रिरिट के साथ 3 अरेस्ट, चुनाव में अवैध शराब बनाने में करने वाले थे इस्तेमाल

Published by Published: January 30, 2017 | 10:39 am
Modified: January 30, 2017 | 11:44 am
barabanki news

barabanki news

बाराबंकी: चुनावी मैदान में जीत सुनश्चित करने के लिए उम्मीदवार तरह-तरह के हथकंडे अपनाते हैं , जिसमें पैसों-रुपयों के लेन-देन से लेकर शराब और नशे का उपयोग जैसे चुनाव में जीत का आधार बनता जा रहा है। बाराबंकी की सुबेहा थाना पुलिस ने रविवार को अवैध शराब बनाने में प्रयोग की जाने वाली कुल 6,600 लीटर स्परिट बरामद की। पुलिस की मानें तो इसका प्रयोग विधानसभा चुनावों में अवैध शराब बनाए जाने के लिए होने वाला था।

प्रदेश में अवैध शराब के खिलाफ जारी अभियान के चलते क्षेत्राधिकारी हैदरगढ़ कपिल देव मिश्र और थानाध्यक्ष सुबेहा झंझनलाल सोनकर वाहनों की जांच कर रहे थे तभी उन्हें सूचना मिली कि ठाकुरैनपुरवा का निवासी रामबरन रावत 30 ड्रम स्परिट लेकर आया है और मकान में छिपा रखी है, साथियों के साथ मिलकर वह शराब बना रहा है

आगे की स्लाइड में जानिए कैसे किया आरोपियों को गिरफ्तार

मुखबिर से जानकारी मिलते ही सीओ हैदरगढ़ व थानाध्यक्ष सुबेहा ने मुल्जिमों की गिरफ्तारी के लिए प्लान बनाया और फिर प्लान के तहत पुलिस टीम ने पहले एक मकान में छिपाकर रखे 30 ड्रम उन्होंने अपने कब्ज़े में कर लिए। फिर उसके बाद मुख्य आरोपी रामबरन को गिरफ्तार किया पुलिस ने वहीं से दो अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया है पुलिस ने तीनों अभियुक्तों को गिफ्तार कर लिया है बता दें कि बरामद स्परिट कीमत करीब लगभग एक करोड़ रुपए है पर इससे बनने वाली शराब की कीमत 6 से 7 करोड़ की होती। जिसे बाद में यह लोग चुनाव कराने वाले लोगों को बेच देते।

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App