शाहजहांपुर: भीषण एक्सीडेंट में दो एंबुलेंस ड्राईवर दोस्तों की दर्दनाक मौत

शाहजहांपुर: यहां एक ऐसा हादसा हो गया जब दो एंबुलेंस ड्राईवर दोस्तों की दर्दनाक मौत हो गई। हादसा उस वक्त हुआ जब दोनो दोस्त एंबुलेंस से एक मरीज को लेने जा रहे थे। तभी तेज रफ्तार एंबुलेंस एक टैंकर के पीछे घुस गई और एंबुलेंस के परखच्चे उङ गए। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों दोस्त आगे की सीट से एक इंच भी हिल न सके। हादसा मृतक के घर से महज एक किलोमीटर की दूरी पर हुआ था। फिलहाल पुलिस ने टैंकर समेत ड्राईवर को हिरासत में ले लिया है।

दरअसल हादसा चौक कोतवाली के मौज्जमपुर गांव के पास नैशनल हाईवे के पास की है। यहां मौज्जमपुर गांव निवासी संतोष और उसका दोस्त गंगा सहाय दोनो अच्छे दोस्त थे। दोनों ही एंबुलेंस ड्राईवर थे। बीती रात संतोष अपने दोस्त के साथ एंबुलेंस से एक मरीज लेने जा रहे थे। तभी गांव से करीब एक किलोमीटर बाहर आने के बाद जब एंबुलेंस नेशनल हाईवे 24 पर पहुचे तो एंबुलेंस ड्राईवर संतोष ने एंबुलेंस की स्पीड बङा दी। लेकिन सामने एक शीरे का टेंकर चल रहा था।

बताया जा रहा है दोनो दोस्त शराब पिये हुए थे। तभी एंबुलेंस अनियंत्रित होकर टैंकर के पीछे घुस गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि दोनो दोस्तों की दर्दनाक मौत हो गई। एंबुलेंस की हालत देखकर आप टक्कर अंदाजा लगा सकते हे। टक्कर होने के बाद दोनो दोस्त सीट से एक इंच भी हिल नही सके। और दोनो दोस्तों की सीट मे फंसकर दर्दनाक मौत हो गई।

ये हादसा दोनो दोस्तों के घर से करीब एक किलोमीटर दूर नैशनल हाईवे 24 पर हुआ है। सूचना के बाद मृतको के परिजन मौके पर पहुच गए और शवो को देखने के बाद परिवार मे कोहराम मच गया। फिलहाल मौके पर पहुचकर पुलिस ने दोनों शवो को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

इंस्पेक्टर राजकुमार तिवारी का कहना है कि एक्सीडेंट की खबर लगते ही मौके पर पहुचकर शवो को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। एंबुलेंस टैंकर मे फंस गई थी। जेसीबी मशीन से एंबुलेंस को निकाला गया है। टैंकर समेत ड्राईवर को हिरासत मे ले लिया है।