UP चुनाव: दूसरे चरण का चुनाव प्रचार खत्म, 67 सीटों में कई दिगज्जों की प्रतिष्ठा दांव पर

Published by aman Published: February 13, 2017 | 1:46 pm
Modified: February 13, 2017 | 5:43 pm
UP चुनाव: इस बूथ पर अभी तक नहीं डाला गया एक भी वोट, आखिर क्या है इनकी मांग
UP चुनाव: दूसरे चरण में कई दिगज्जों की प्रतिष्ठा दांव पर, 67 सीटों के लिए होने हैं मतदान
Vinod Kapoor

लखनऊ: यूपी में दूसरे चरण में 11 जिलों की 67 सीटों पर 15 फरवरी को होने वाले मतदान के लिए चुनाव प्रचार सोमवार शाम पांच बजे खत्म हो गया। चूंकि प्रचार का आज अंतिम दिन था इसलिए दलों ने पूरी ताकत लगा दी थी।

इस दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बरेली और बिजनौर में, तो पीएम मोदी ने लखीमपुर खीरी में सभा की। जबकि सीएम अखिलेश यादव ने मुरादाबाद में सभा की तो मायावती ने इटावा और उन्नाव में जनसभा की।

67 सीट से 720 प्रत्याशी मैदान में
दूसरे चरण में कुल 67 में 12 सुरक्षित सीटें हैं। इन सीटों पर 720 प्रत्याशी ताल ठोक रहे हैं। मायावती इटावा और उन्नाव में जनसभा कर रही हैं ​जबकि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह बरेली में मौजूद रहेंगे। इन 67 सीटों की अधिसूचना 20 जनवरी को जारी हुई थी। नामांकन 27 जनवरी तक चला। नामांकन पत्रों की जांच 30 जनवरी को हुई और 1फरवरी को नाम वापस हुए।

इन जिलों में होंगे मतदान
दूसरे चरण में सहारनपुर, बिजनौर, मुरादाबाद, संभल, रामपुर, अमरोहा, बदायूं, बरेली, पीलीभीत, शाहजहांपुर और लखीमपुर खीरी जिले में चुनाव होना है।

आगे की स्लाइड में पढ़ें पूरी खबर …

कई माननीयों की प्रतिष्ठा दांव पर
इस चुनाव में केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी, संतोष गंगवार और कृष्णा राज के अलावा यूपी के कद्दावर मंत्री आजम खान की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। विधानसभा के पिछले चुनाव में बीजेपी के पास इन जिलों से मात्र 10 सीटें आई थी। सीटों की संख्या बढाने के लिए उसने इस इलाके की अपने तीनों केंद्रीय मंत्री को लगा दिया है।

यूपी के कई मंत्रियों पर जीतने-जिताने का दबाव
राज्य सरकार के मंत्री आजम खान रामपुर सदर सीट से चुनाव मैदान में हैं। जबकि अन्य मंत्री इकबाल महमूद संभल से रियाज अहमद पीलीभीत सदर से, महबूब अली अमरोहा से और कमाल अख्तर हसनपुर से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। यूपी के इन मंत्रियों पर अपनी सीट जीतने के अलावा आसपास की सीटें जीताने का भी दबाब है।

आजम का बेटा भी मैदान में
रामपुर की स्वार सीट से आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम खान और बसपा की ओर से रामपुर नवाब घराने के नवाब काजिम अली चुनाव लड रहे हैं। नवाब घराने से आजम खान का सालों पुराना बैर है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App