Top

मायावती के साथ नसीमुद्दीन भी उतने ही दोषी : विजय बहादुर पाठक

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 13 May 2017 10:38 AM GMT

मायावती के साथ नसीमुद्दीन भी उतने ही दोषी : विजय बहादुर पाठक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फतेहपुर : उत्तर प्रदेश बीजेपी के प्रदेश महामंत्री विजय बहादुर पाठक ने फतेहपुर में पत्रकारों से बातचीत के दौरान विरोधियों पर जमकर निशाना साधा।

ये भी देखें : मायावती-नसीमुद्दीन विवाद: स्वामी प्रसाद मौर्या का तीखा हमला, कहा- दोनों एक ही थैली के चट्टे-बट्टे

पाठक ने कहा कि जो बात हम बोलते आ रहे थे, वही अब सबके सामने है। बीेएसपी में व्याप्त भ्रष्टाचार अब सबके सामने है। पैसे लेकर टिकट बांटने के साथ ही हर काम में पैसे लेने का जो ऑडियो अब नसीमुद्दीन वायरल कर रहे हैं, उसमें कहीं ना कहीं बीएसपी से निकाले गए नसीमुद्दीन भी उतने ही दोषी हैं, जितनी कि मायावती।

उन्होंने कहा कि बीएसपी और सपा में निराशा का माहौल है। जनता ने ऐसी पार्टियों को सबक सिखाने का काम किया है। नसीमुद्दीन के बीजेपी में शामिल होने के सवाल पर कहा, कि बीजेपी में कोई जगह नहीं है। उन्होंने यह भी जोड़ा कि बूचड़ खाने से लेकर मायावती के जितने भी गलत काम थे। उनको नसीमुद्दीन ही कराया करते थे , इस सबमे मायावती का समर्थन भी हासिल था। इसलिए बीएसपी की टिकट बटवारे से लेकर हर मामले में धन उगाही की बात सही है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story