Top

नए साल में संघ ने फिर से ली क्लास, सीएम और दोनों डिप्टी सीएम मौजूद

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 9 Jan 2018 2:07 PM GMT

नए साल में संघ ने फिर से ली क्लास, सीएम और दोनों डिप्टी सीएम मौजूद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में नए साल में सरकार की काम की समीक्षा के लिए फिर से संघ ने क्लास लगाई। मुख्यमंत्री आवास में चल रही इस बैठक में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) के बड़े पदाधिकारियों ने जहां शिरकत की वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और दोनों उपमुख्यमंत्रियों ने शिरकत की। करीब सात बजे यह बैठक शुरू हुई जो दस बजे समाप्त हुई है। इसमें प्रदेश की शिक्षा नीति समेत सामान्य कामकाज और अन्य कई मुद्दों पर बात हुई है।

ये भी देखें : जानिए क्यों ! IPS एसोसिएशन को DM के प्रति जवाबदेही मंजूर नहीं

कौन कौन बैठक में

नए साल की शुरुआत में हो रही इस बैठक को काफी अहम माना जा रहा है। इस बैठक में संघ की तरफ से राष्ट्रीय सह-संगठन प्रभारी शिवप्रकाश, उत्तर प्रदेश के सह प्रभारी और संघ के बडे पदाधिकारी कृष्ण गोपाल शामिल हुए वहीं इस बैठक में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले को भी शामिल होना है। इस बैठक में सरकार की तरफ से खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और दोनों उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा और केशव मौर्य शामिल हैं।

क्या है एजेंडा

इस बैठक में सरकार के सामान्य कामकाज के अलावा प्रदेश की शिक्षा नीति पर चर्चा होनी है। दरअसल बच्चों को स्वेटर न बंट पाने और कई घोषणाओं के समय से पूरा ना होने से संघ कुछ हद तक नाराज बताया जा रहा है। इसके अलावा इस बैठक में सरकार के कामकाज की समीक्षा भी की जाएगी। इस बैठक में सबसे अहम तौर पर प्रशासनिक महकमे के कामकाज को लेकर चर्चा की जाएगी। जिस तरह से अफसरशाही की लीक है उससे संघ नाखुश बताया जा रहा है। हाल में हुए आईएएस आईपीएस झगडे और योजनाओं को ठीक ढंग से लागू न होने को लेकर सरकार के साथ ही सरकार के अफसरों की भी समीक्षा की जाएगी। माना जा रहा कि अहम पदों पर बैठे अफसरों का रिपोर्ट कार्ड भी देखा जाएगा।

साथ ही सरकार के नौ महीने पूरे होने के कार्यकाल की अवधि पर आगे की प्राथमिकताओँ की भी चर्चा होगी।

बैठक को लेकर राजनीति

इस बैठक को लेकर सरकार विरोधियों के घेरे में है। विपक्ष का आरोप है कि संघ रिमोट से सरकार चला रहा है और उसकी ही समीक्षा हो रही है। वहीं सरकार के प्रवक्ता और प्रदेश के बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा ने इसके जवाब में कहा कि आरोप लगाने वालों को परिवार की सरकार चलाने की आदत हो गयी थी और परिवार में ही रिमोट चलता है। भाजपा एक लोकतांत्रिक पार्टी है यहां पर किसी तरह का कोई रिमोट नहीं चलता है।

ये भी देखें : RSS playing with fire on Ram temple issue: Asaduddin Owaisi

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story