Top

अजित सिंह ने दिखाई ताकत, चरण सिंह को मिले भारत रत्न

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 22 Dec 2016 6:58 PM GMT

अजित सिंह ने दिखाई ताकत, चरण सिंह को मिले भारत रत्न
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुज़फ्फरनगर : राष्ट्रीय लोकदल सुप्रीमो अजीत सिंह ने पूर्व प्रधानमन्त्री चौधरी चरण सिंह की 114वी जयन्ती की पूर्व संध्या पर चरथावल विधानसभा में किसान अधिकार रैली कर चुनावी बिगुल बजा दिया है। इस रैली में महागठबंधन के शरद पवार ,शरद यादव ,अजीत सिंह ,और जयंत चौधरी के साथ के जदयु से केसी त्यागी और तृणमल कोंग्रेस के निजामुल हक़ एक मंच पर दिखाई दिए।

किसान अधिकार रैली के दौरान सिंह ने कहा कि चरण सिंह ने किसानो को एकसूत्र में बांधकर उनके हितो के लिए काम किया। उन्होनें प्रदेश व केन्द्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि जब से प्रदेश में सपा की सरकार आयी तभी से गुण्डागर्दी का बोलबाला है। केन्द्र की सरकार मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि मोदी जी ने चुनाव में वायदा किया था, कि विदेश से कालाधन लाऊगां दो करोड नौजवानो को रोजगार दिलाऊगां किसानो को उनकी फसलों का वाजिब दाम दिलवाऊगां, क्या किसी भी वायदे को पूरा किया है, ऐसे नेताओं से सावधान रहना होगा।

पार्टी महासचिव चौधरी जयंत ने कहा कि नेताओं ने किसानो को अपने स्वार्थ के लिए जाति धर्म में बांट दिया है। जब तक सभी किसान मजदूर गरीब एक नहीं होगे तब तक किसान मजदूर गरीब इसी तरह पिटता रहेगा और न ही किसानो का भला हो सकता है ।एकता में ही शक्ति है इस शक्ति को टूटने नहीं देना है।

शरद यादव ने कहा कि आज की हिन्दू मुस्लिम एकता को देखकर लगता है कि फिरकापस्त ताकते चाहे लोगों के दिलों में जितनी भी दरार डालने की कोशिश करे लेकिन जनता उनके झांसे में आने वाली नहीं है। उन्होने कहा कि जो लोग अपना इतिहास भूल जाते है। इतिहास भी उनको भूल जाता है। चौधरी चरण सिंह की जयन्ती पर उन्होने सावर्जनिक अवकाश तथा उनको भारत रत्न देने की मांग की।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story