Top

#BHU मामले पर अखिलेश यादव ने ली चुटकी ट्विट किया 'डंडे मातरम'

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 25 Sep 2017 1:01 PM GMT

#BHU मामले पर अखिलेश यादव ने ली चुटकी ट्विट किया डंडे मातरम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में छेड़खानी के खिलाफ सिंहद्वार पर आंदोलनरत छात्राओं पर हुए लाठीचार्ज और पूरे घटनाक्रम की जांच करने बनारस पहुंचे समाजवादी पार्टी (सपा) के जांच दल को पुलिस ने बीएचयू परिसर में जाने से रोक दिया। विरोध करने पर कई सपाइयों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

ये भी देखें: अखिलेश को आशीर्वाद देकर नेताजी अब कौन सा खेल रहे है सियासी दांव

लाठीचार्ज पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इसे 'डंडे मातरम' कहा है। बीएचयू के सिंहद्वार पर धरना दे रहीं छात्राओं पर शनिवार देर रात हुए लाठीचार्ज की जांच करने सोमवार को पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत सपा का नौ सदस्यीय दल बीएचयू पहुंचा। लेकिन पुलिस ने उन्हें परिसर में प्रवेश करने से रोक दिया और लंका इलाके में मुख्य प्रवेश द्वार पर उन्हें हिरासत में ले लिया।

पुलिस के इस कदम के खिलाफ सैकड़ों सपा कार्यकर्ता बीएचयू के पास पहुंच गए और केंद्र व राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। मौके पर मौजूद भारी पुलिस बल ने सैकड़ों सपाइयों को हिरासत में ले लिया।

ये भी देखें: ‘हाय सेक्सी-हेलो सेक्सी’ कहना पड़ गया भारी, हो गई 2 साल की जेल

सपा नेता मनोज राय धूपचंडी ने बताया, "पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर विधान पार्षद लीलावती कुशवाहा एवं रामवृक्ष यादव सहित पार्टी का नौ सदस्यीय एक दल बीएचयू पहुंचा था। दल पीड़ित छात्राओं से मिलकर हालात का जायजा लेना चाहता था, लेकिन पुलिस ने उन्हें परिसर में प्रवेश करने से रोक दिया और लंका इलाके में हिरासत में ले लिया।"

उन्होंने बताया कि पुलिस ने लगभग 125 नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं पुलिस का कहना है कि कार्यकर्ताओं को एहतियात के तौर पर हिरासत में लिया गया है। उन्हें स्थानीय पुलिस लाइन में रखा गया है तथा आगे की कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

ये भी देखें: अमर भड़ास! स्वघोषित राजकुमार अखिलेश ने अपने पिता की बलि दे दी

उधर लाठीचार्ज एवं हिंसक घटनाओं के लिए कुलपति प्रोफेसर गिरीशचंद त्रिपाठी को जिम्मेदार बताते हुए छात्र-छात्राओं के कई समूह सोमवार को अलग-अलग स्थानों पर धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। हालांकि परिसर में भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात है और परिसर का सिंहद्वार बंद कर दिया गया है।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर कार्टून पोस्ट करते हुए ट्वीट किया कि महामना के विश्वविद्यालय में नारी शक्ति पर जुल्म! बेटियों पर लाठी और फर्जी मुकदमे! 'डंडे मातरम'!

ये भी देखें: शिवपाल नदारद और पिता के आशीर्वाद पर अखिलेश बोले- नेताजी ज़िंदाबाद



इस पूरे मामले पर सपा संरक्षक मुलायम सिंह ने सोमवार को कहा कि बीएचयू में लड़कियां सुरक्षित नहीं हैं और छात्रों पर लाठीचार्ज किया जाना वाकई दुखद है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story