Top

ओवैसी बोले : बीजेपी मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों के बारे में चुनिंदा ढंग से बात कर रही

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 2 May 2017 10:12 AM GMT

ओवैसी बोले : बीजेपी मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों के बारे में चुनिंदा ढंग से बात कर रही
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हैदराबाद : ट्रिपल तलाक पर केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडु की टिप्पणियों से नाराज एमआईएम सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी नेताओं पर हमला बोलते हुए कहा कि मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों के बारे में वह चुनिंदा ढंग से बात कर रही है।

ये भी देखें :फिर दिखेगा फिल्म के सीक्वल में टाइगर का बागी लुक, एक्ट्रेस के नाम पर अब भी है सस्पेंस

सांसद ने कहा कि बीजेपी ट्रिपल तलाक जैसे मुद्दे इसलिए उठा रही है ताकि ‘सांप्रदायिक' मुद्दों को हवा दी जा सके। ओवैसी ने कहा मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों की बात कर रहे हैं नायडु, पहलू खान की अंधी मां के अधिकारों के बारे में बात क्यों नहीं करते। आपको बता दें अलवर में पहलू खान की कथित तौर पर गौ रक्षकों ने हत्या कर दी थी।

ओवैसी का गुस्सा यहीं शांत नहीं हुआ उन्होंने कहा नायडु, जाकिया जाफरी के अधिकारों की बात क्यों नहीं करते? अधिकारों के बारे में चुंनिदा ढंग से बात करना हमें स्वीकार नहीं है।

उन्होंने कहा कि पीएम ने ट्रिपल तलाक के मुद्दे का राजनीतिकरण नहीं करने को कहा था फिर भी नायडु और यूपी के एक मंत्री अभी भी इस मुद्दे पर बात कर रहे हैं। इस 11 मई को सुप्रीम कोर्ट सुनवाई शुरु करने वाला है, तो इससे पहले बीजेपी इस बारे में क्यों बात कर रही है ? उन्हें कुछ कहना ही है तो जाएं और कोर्ट में अपनी बात रखें। लेकिन वे तो सांप्रदायिक मुद्दों को हवा देते रहना चाहते हैं।

केंद्रीय मंत्री नायडु ने सोमवार को कहा कि ट्रिपल तलाक का मुद्दा धार्मिक नहीं है और शरीयत में इसे मंजूरी हासिल नहीं है। अन्य महिलाओं के साथ साथ मुस्लिम महिलाओं के लिए भी सम्मान से जीने के अधिकार का मुद्दा है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story