Top

सुना पीएम साहेब ! आपकी 'काशी' को गंदा बोल गए आपके ही मंत्री

shalini

shaliniBy shalini

Published on 6 Jun 2018 7:13 AM GMT

सुना पीएम साहेब ! आपकी काशी को गंदा बोल गए आपके ही मंत्री
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वाराणसी: स्वच्छता के मापदंड पर पीएम नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी भले ही 7वें स्थान पर हो लेकिन केंद्र सरकार के पर्यटन मंत्री के.जे अल्फोंस को इस शहर में कई खामियां नजर आईं।

अल्फोंस की नजर में वाराणसी में ट्रैफिक की समस्या है और गंदगी बहुत है। लोगों को आवाजाही में परेशानियां होती है, जिससे पर्यटकों की संख्या में कमी आई है। यहां सफाई करने की जरूरत है। जबकि बीजेपी विधायक स्वच्छता के मामले में वारणसी को बेहतर बता रहे हैं।

भारत की विकास दर 2018-19 में 7.3 फीसदी रहने का अनुमान : विश्व बैंक

वाराणसी पर केंद्रीय मंत्री की टिप्पणी पर बीजेपी के क्षेत्रीय विधायक रविंद्र जायसवाल ने कहा कि स्वच्छता के मापदंड पर वाराणसी देश में 7वें नंबर पर है।

वहीं सपा प्रवक्ता प्रवक्ता जूही सिंह ने कहा कि मोदी सरकार के अपने ही मंत्री 4 साल के काम का खुलासा कर रहे हैंं।

शाह की मुलाकात के पहले शिवसेना बोली- अब बहुत देर हो गई

केंद्रीय पर्यटन मंत्री अपने दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे थे। के.जे अल्फोंस का कहना है कि वाराणसी में हालात बेहद खराब हैं, स्वच्छता अभियान ठीक से नहीं चल रहा है। शहर में गंदगी फैली हुई है, पर्यटक नहीं आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अभी सारनाथ में 5 लाख पर्यटक आ रहे हैं, जो बहुत कम हैं। इसे 2 सालों में बढ़ाकर 10 लाख करना है।

मंत्री ने पर्यटन की दृष्टि से चल रहे तमाम विकास कार्यों का जायजा लिया और रामनगर सारनाथ समेत गंगा घाटों व अन्य जगहों पर जाकर उन्होंने निरीक्षण भी किया।

यूपी में पर्यटन की दृष्टि से अलग-अलग धार्मिक सर्किट पर 6 प्रोजेक्ट चल रहे हैं। इनमें रामायण सर्किट ,बौद्ध सर्किट, जैन सर्किट और तीन अन्य हैं जिनको दिसंबर तक पूरा कर देने के लिए कहा गया है।

shalini

shalini

Next Story