Top

अखिलेश यादव पर बीजेपी ने किया पलटवार, मांगे 6 सवालों के जवाब

बीजेपी नेता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सपा पर हमला बोलते हुए कहा कि सीबीआई हाई कोर्ट के अधीन काम कर रही है। वह किसी के गठबंधन के समय या फिर चुनाव को देखते हुए एक्शन नहीं ले रही है। ऐसे राजनीतिक दल जिनके नेता आरोपी हैं, उनको मामले से ध्यान नहीं भटकाकर जवाब देना चाहिए।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 6 Jan 2019 11:37 AM GMT

अखिलेश यादव पर बीजेपी ने किया पलटवार, मांगे 6 सवालों के जवाब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: अवैध खनन घोटाला मामले में सीबीआई की ओर से यूपी समेत दिल्ली के 14 स्थानों पर छापेमारी से अफसरों और राजनेताओं में हड़कंप मच गया है। राजधानी में आईएएस अधिकारी बी. चंद्रकला के आवास पर सीबीआई की छापेमारी के बाद इस पर राजनीति भी शुरू हो गई है। एक पूर्व मुख्यमंत्री का नाम भी इसमें लिया जा रहा है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज इस मामले में बीजेपी पर पलटवार किया था। जिसके जवाब में बीजेपी के नेता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस करके अखिलेश यादव पर जुबानी हमला बोला है।

बीजेपी नेता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि 2012 से 2017 के दौरान हुए मामलों को हम लोग देख रहे हैं। कल सीबीआई ने 12 जगह पर रेड की। इनमें कुछ अधिकारी और एसपी के नेता भी शामिल हैं। खासतौर पर हमीरपुर में रेड हुई है। बीजेपी नेता ने अखिलेश यादव से 6 सवाल पूछे हैं। तो आइये जानते है कौन से है वो सवाल:-

1. 2012 में खनन के कॉन्ट्रैक्ट ई-टेंडर के माध्यम से देने का निर्णय किया था। ई-टेंडर तो लाए, लेकिन आपकी अधिकारी बी चंद्रलेखा उसका उल्लंघन करती हैं। क्या ऐसा आपकी जानकारी में हुआ?

2. जिस समय खनन की लूट मची, उस समय आप खनन मंत्री थे या नहीं?

3. 2012 और 2013 में बी. चंद्रलेखा को हमीरपुर का डीएम क्यों बनाया गया?

4. आपके और आपकी पार्टी के दिनेश कुमार मिश्रा, अंबिका तिवारी, संजय दीक्षित और आदिल खान से क्या संबंध हैं? जो मामले में आरोपी हैं?

5. आपके बाद गायत्री प्रजापति को खनन मंत्री बनाया गया। क्या उन्हें बाद में इसलिए अंडरग्राउंड किया गया क्योंकि तार इस पूरे मामले से जुड़े हुए थे?

6. आपने सीएम हाउस जब खाली किया था तो दीवारें भी तोड़ी थीं। क्या दीवार के पीछे का राज हमीरपुर की 'लूट' थी। इसका अखिलेश खुलासा करें।

ये भी पढ़ें...अखिलेश यादव ने BJP पर साधा निशाना, बोले- ऐसे लोगों से जनता हिसाब लेती है

योगी के मंत्री ने सीबीआई जांच पर कही ये बात

सीबीआई के एक्शन का बचाव करते हुए सिंह ने कहा कि 2016 में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने खनन घोटाले का संज्ञान लिया था। इसके बाद सीबीआई ने 2012-17 के बीच हुई खनन की लूट की जांच की। इसके बाद सीबीआई ने दो चरण में एफआईआर दर्ज की। तीसरे चरण में अब एफआईआर दर्ज की जा रही है। सीबीआई हाई कोर्ट के अधीन काम कर रही है। वह किसी के गठबंधन के समय या फिर चुनाव को देखते हुए एक्शन नहीं ले रही है। ऐसे राजनीतिक दल जिनके नेता आरोपी हैं, उनको मामले से ध्यान नहीं भटकाकर जवाब देना चाहिए।

ये भी पढ़ें...इटावा में शिवपाल ने भतीजे अखिलेश यादव पर किया बड़ा हमला

अखिलेश ने बीजेपी पर कसा था तंज

इससे पहले अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा था, 'हमने एक्सप्रेसवे बनाया तो उन्होंने उसकी भी जांच करवाई। बीजेपी के पास जो है वह उसका इस्तेमाल कर रही है। उनके पास सीबीआई है, तो हमारे पास भेज रही है। सीबीआई का स्वागत है। उनके पास पैसे हैं, तो उन्होंने विज्ञापन में 5,000 करोड़ खर्च कर दिए। अभी यह सामने नहीं आया है कि किसको कितना मिला, लेकिन जब टीवी पर खबर देखते हैं तो समझ आता है कि किसको कितना मिला है।'

ये भी पढ़ें...आइएएस बी.चंद्रकला के घर पड़ी सीबीआई की रेड! अखिलेश यादव भी घेरे में

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story